CEOs Kumbhejkar gave instructions to make list

नागपुर. जिले में हालांकि फिलहाल कोरोना संक्रमितों और उससे मरने वालों की संख्या में कमी आ रही है लेकिन कोरोना की दूसरी लहर से जिले के सभी नागरिकों को बचाने के लिए जिला परिषद की ओर से मुफ्त में होमियोपैथी दवा आर्सेनिकम अल्बम-30 का वितरण किया जाएगा. यह जानकारी बैठक में जिप अध्यक्ष रश्मि बर्वे ने दी. उन्होंने कहा कि उक्त दवा लोगों की रोग प्रतिकार शक्ति को बढ़ाने के लिए अच्छी है.

राज्य में इस तरह मुफ्त में दवा वितरण करने वाली नागपुर जिला परिषद तीसरी होगी. जिले के 3.78 लाख घरों में 22.63 लाख दवा की शीशियां वितरित की जाएंगी. बैठक में उपाध्यक्ष मनोहर कुंभारे, सलील देशमुख, सीईओ योगेश कुंभेजकर व अन्य अधिकारी उपस्थित थे. बर्वे ने कहा कि यह होमियोपैथी दवा बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी ले सकते हैं. 3 दिन सुबह खाली पेट में 3-3 गोलियां लेनी होगी. उसके बाद दूसरे महीने और तीसरे महीने भी 3 दिन लेनी होगी. दवा का वितरण आशा वर्करों की मदद से घर-घर में की जाएगी. 

14वें वित्त आयोग निधि से व्यवस्था

दवा का वितरण 14वें वित्त आयोग ब्याज निधि से किया जाएगा. आने वाले 10-15 दिनों में इसकी शुरुआत कर दी जाएगी. जिले के प्रत्येक घर में यह दवा नि:शुल्क पहुंचाई जाएगी. उन्होंने नागरिकों से अपील की है कि कोरोना का कहर भले ही कम हो रहा हो लेकिन इसका खतरा अभी भी बना हुआ है. जब तक इसकी वैक्सीन या दवाई नहीं आती तब तक किसी तरह की ढिलाई न करते हुए मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, सेनिटाइजर का उपयोग करें.