14 दिनों के शिशु ने जीती कोरोना से जंग

स्वास्थ्य अधिकारियों ने की फूलों की बर्षा

मां, भाई और बहन भी हुए स्वस्थ

मालेगांव. कोरोना हॉटस्पॉट के रूप में परिचित मालेगांव शहर में 14 दिनों का नवजात शिशु, मां, भाई और बहन के साथ कोरोना मुक्त हो गया. आरोग्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों ने फूलों की वर्षा कर उन्हें अस्पताल से घर छोड़ा. मालेगांव शहर में अप्रैल माह में 5 मरीज मिले. इसके बाद मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने से मालेगांव शहर कोरोना का हॉटस्पॉट बन गया. शहर में आज की स्थिति में 872 मरीज हैं. उनका उपचार किया जा रहा है. इसमें से 731 मरीज स्वस्थ होकर घर चले गए हैं. कुछ दिन पहले शहर के अली अकबर अस्पताल में एक महिला ने बच्चे को जन्म दिया. इस दरमियान आरोग्य अधिकारियों ने बच्चे के साथ मां, भाई और बहन की कोरोना जांच की. उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई. इसके बाद उनका उपचार शुरू किया गया. शुरुआत में उनका 3 दिनों तक सामान्य अस्पताल में उपचार चला. इसके बाद उन्हें फारान अस्पताल में दाखिल किया गया. बाद में हज हाउस में उपचार किया गया. 

कोरोना मुक्त की रिपोर्ट आने से खुशी

14 दिनों के बाद उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई और वे कोरोना मुक्त हो गए. इससे लोगों में खुशी का माहौल है. इसके बाद उन पर फूलों की वर्षा करते हुए घर छोड़ा गया. इस समय महापौर ताहेरा शेख, आयुक्त दीपक कासार, उपायुक्त नितिन कापडणीस, आरोग्य अधिकारी सपना ठाकरे, हितेश महाले, दानिश, जनसंपर्क अधिकारी दत्तात्रेय काथेपुरी, स्वप्निल खैरनार, सोहेल, व्यवस्थापक खरे, विजय बाचकर आदि उपस्थित थे.