तमिलनाडु जाएंगी नाशिक से 18310 ईवीएम मशीनें

नाशिक. बिहार विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद अगले साल और 5 राज्यों में चुनाव का संघर्ष देखने को मिलेगा। तमिलनाडु में मई 2021 में विधानसभा चुनाव होने की संभावना है। इसलिए नाशिक जिले में विधानसभा चुनाव के लिए उपयोग में लाए गए 18 हजार 310 ईवीएम (EVM) तमिलनाडु चुनाव के लिए भेजी जाने वाली है। यह ईवीएम देने के पहले ईवीएम मैनेजमेंट सिस्टम इस साफ्टवेयर प्रणाली के माध्यम से उसका स्कैनिंग करने का काम शुरू हुआ है। एक साल पहले महाराष्ट्र में विधानसभा के चुनाव हुए।

नाशिक जिले में भी 15 विधानसभा चुनाव क्षेत्र में मतदान हुआ। चुनाव आयोग द्वारा दिए गए निर्देश के तहत नतीजों के बाद एक साल तक बैलेट यूनिट, कंट्रोल यूनिट और वीवीपैट सीलबंद कर एक जगह पर सुरक्षित जगह पर रखी जाती है। चुनाव नतीजों के 6 माह पहले कोई उम्मीदवार नतीजों पर आक्षेप लेकर न्यायालय में गुहार लगा सकता है। ऐसे में दोबारा वोटों की गणना करने की संभावना होने से एक साल तक ईवीएम मशीन संभालकर रखे जाते हैं। अन्य चुनाव के लिए उसका उपयोग नहीं किया जाता।

चुनाव नतीजों को एक साल बीत चुका है। जिले की मतदान प्रक्रिया के लिए उपयोग में लाए गए ईवीएम को अंबड स्थित वखार महामंडल के गोदाम में रखा गया है। चुनाव आयोग द्वारा दिए गए निर्देश के तहत यहां के इवीएम तमिलनाडु के चेंगलपट्टू, तिरुवणमलई और ईरोडे जिले के लिए भेजे जाने वाले हैं, जिसमें 7890 बैलेट यूनिट, 5100 कंट्रोल यूनिट और 5320 वीवीपैट शामिल है।

इसके पहले जिलाधिकारी सूरज मांढरे की निगरानी में इवीएम मैनेजमेंट सिस्टम साफ्टवेयर प्रणाली के माध्यम से स्कैनिंग किया जा रहा है। चुनाव शाखा के उपजिला चुनाव अधिकारी स्वाति भविल, तहसीलदार प्रशांत पाटिल, आबासाहब तांबे, सुरेश कांबले, नायब तहसीलदार गवांदे, लिपिक गोकुल पाटिल, तांत्रिक सहायक निलेश पवार की मौजूदगी में स्कैनिंग हो रहा है। तमिलनाडु राज्य के अधिकारियों का दल अगले सप्ताह में नाशिक में आने वाला है। उन्हें यह मशीन दी जाएंगी।