9 मरीजों ने कोरोना को किया परास्त

– 10 वर्ष का बालक, 60 साल की वृद्धा शामिल

– जिप सीओ ने किया मरीजों का स्वागत

मनमाड. मनमाड शहर के 9 मरीजों ने कोरोना को पराजित किया है. इन मरीजों को आज डिस्चार्ज किया गया, इसमें 10 के बालक एवं 60 साल की एक महिला शामिल है.जिला परिषद की सीओ लीना बनसोड ने इन सभी मरीजों को गुलाब का पुष्प देकर उनका अभिनंदन किया. मनमाड शहर में कोरोना के कुल 51 मरीज पाए गए थे उनमें से 43 मरीज कोरोना मुक्त हो चुके हैं. 5 मरीजों का इलाज चल रहा है. उनकी सेहत में भी तेजी से सुधार हो रहा है, इसलिए शीघ्र ही इन मरीजों को भी डिस्चार्ज दिए जाने की उम्मीद है. 

इस समय देश विदेश में कोरोना का कहर जारी है.मनमाड से सटे हुए मालेगांव,येवला,लासलगांव, चांदवड ये सभी शहर कोरोना की चपेट में होने के बावजूद मनमाड शहर कोरोन मुक्त था, लेकिन 2 मई को यहां कोरोना का पहला मरीज पाया गया, उसके बाद दिन-ब-दिन कोरोना मरीज पाए जाने लगे और संख्या 51 तक जा पहुंची. मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए नपा प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग पुलिस अधिकारी,कर्मी इन सभी ने मिलकर कोरोना की बढ़ती संख्या पर अंकुश लगाने के लिए विभिन्न उपाय योजना किये गए. 

सभी के सहयोग से कोरोना का कहर रुका

इन सभी विभागों के अधिकारी-कर्मियों को जन प्रतिनिधि एवं लोगों का भी उतना ही सहयोग मिला, जिसके कारण सवा लाख आबादी वाले इस शहर में कोरोना को बढ़ने से रोकने में सफलता मिली.आज कोरोना से मुक्त हुए 9 मरीजों को डिस्चार्ज देते वक्त जिला परिषद की सीओ लीना बनसोड आई थीं. उन्होंने इन मरीजों को गुलाब का पुष्प देकर कोरोना पर मात करने के लिए बधाई दी. इस अवसर पर अतिरिक्त जिला वैद्यकीय अधिकारी दावल सालवे,तालुका वैद्यकीय अधिकारी डॉ.ससाणे तहसीलदार कुलकर्णी,नायब तहसीलदार योगेश जमधाडे,उप जिला अस्पताल के वैद्यकीय अधीक्षक डॉ जी एस नरवणे, मुख्याधिकारी डॉ दिलीप मेनकर, नांदगांव की मुख्याधिकारी श्रिया देवचक्के,वीडीओ गणेश चौधरी नोडल ऑफिसर डॉ रवींद्र मोरे,किरण पाटील,नपा के  अजहर शेख आदि उपस्थित थे.