A unique case of installing a paver block on plywood

    सिडको. नाशिक महाननगरपालिका चुनाव (Nashik Municipal Election) कुछ ही माह में होने वाले हैं। इस दौरान कितना विकास कार्य (Development Work) किया गया, जिसका दिखावा करने के लिए प्रभाग-29 में नालों के ढक्कन पर प्लायवुड (Plywood) बिछाकर पेवर ब्लॉक (Paver Block) बिठाने का अनूठा मामला शिवसेना (Shiv Sena) के पदाधिकारी ने सामने लाया। मामला सामने आने के बाद नगरसेवक के खिलाफ नागरिकों में रोष देखा जा रहा है। प्रभाग 29 के बजरंग चौक, साईबाबा नगर, घुगे मला आदि परिसर में नालों की साफ-सफाई पिछले कुछ दिन पूर्व की गई। 

    बारिश का पानी सड़कों पर जमा न हो इसलिए नालों पर जाली का ढक्कन लगाया गया। अब इन ढक्कन पर प्लायवुड लगाते हुए उस पर पेवर ब्लॉक बिठाने का अनूठा मामला सामने आया है। परिसर के नागरिकों ने शिवसेना विभाग प्रमुख सुयश पाटिल, निलेश सालुंखे, उप विभाग प्रमुख मॉन्टी दलवी, आबा पाटिल, शाखा प्रमुख निखिल चौधरी आदि के साथ इस मामले में विभागीय अधिकारी और मनपा उपायुक्त को ज्ञापन देकर कार्रवाई करने की मांग की गई है। 

    ठेकेदार को काली सूची में शामिल करने की मांग

    साथ ही संबंधित ठेकेदार को काली सूची में शामिल कर इस कार्य पर ध्यान देने वाले अधिकारी-कर्मचारियों पर दंडात्मक कार्रवाई की मांग की। ऐसा न होने पर शिवसेना स्टाइल में आंदोलन करने की चेतावनी दी। भाजपा नगरसेवक मुकेश शहाणे ने पत्रकार परिषद का आयोजन कर शिवसेना के विभाग प्रमुख सुयश पाटिल ने ठेकेदार से फिरौती मांगने का आरोप लगाते हुए ठेकेदार द्वारा किए जा रहे कार्य का समर्थन किया। पाटिल ने ठेकेदार और जनप्रतिनिधियों में मिलीभगत होने का आरोप लगाया। अब मनपा प्रशासन इस मामले में क्या कार्रवाई करता है? इस ओर सभी की निगाहें लगी हुई है।