साक्री के पश्चिमी पट्टे में पर्याप्त बारिश इंतजार

साक्री. विगत दो दिनों से तहसील में हो रही लगातार बारिश से एक ओर तापमान ठंडा हो गया है, वहीं सही समय पर हुई बारिश से किसानों में खुशी की लहर दौड़ गई है. इस बारिश ने कुछ राहत तहसील के पश्चिमी पट्टे में भी पहुंचाई है. जहां चावल, रागी और दलहन की फसलों को अधिक वर्षा की आवश्यकता होती है. इस भाग में अभी अच्छी बारिश का इंतजार है.

तहसील में 10 मंडल क्षेत्र हैं

तहसील में दस मण्डल क्षेत्र हैं. तहसील के 4 हिस्सों में सर्वाधिक बारिश पश्चिमी पट्टे में होती है. एक मौसम में ये औसत 11 सौ से 14 सौ मिमी के लगभग बारिश होती है. शेष 3 हिस्सों में यही औसत 450 मिमी के लगभग रहता है. अब तक मौसमी औसत के हिसाब से 80 प्रतिशत से ज्यादा की बारिश दर्ज हो चुकी है. इस वर्ष समय पर बारिश आने के चलते फसलों की स्थिति और वृद्धि बहुत अच्छी रही है. किसान अपनी फसलों की स्थिति से खुश है.

जल भंडारण क्षेत्र में पर्याप्त बारिश नहीं

पर अभी भी जलग्रहण क्षेत्र में पर्याप्त बारिश नहीं हुई है. तहसील के प्रमुख जलग्रहण क्षेत्र पश्चिमी पट्टे में ही स्थित है. पर्याप्त बारिश नहीं होने के चलते नदी-नालों में बाढ़ नहीं आई है, जिसका इंतजार किया जा रहा है क्योंकि बाढ़ आने से भूगर्भीय जलस्तर में वृद्धि होती है. गर्मी के दिनों में जलस्तर घटने से कुएं सूख जाते हैं. उक्त जलस्तर नादियों और नालों में आई बाढ़ के बाद फिरसे बढ़ जाता है. जिसकी प्रतीक्षा है. पश्चिमी पट्टे के किसानों ने कम बारिश में ही हिंमत कर के चावल और रागी के पौधों की रोपाई कर दी है, जबकि उक्त फसलों को आवश्यक बारिश की प्रतीक्षा है अन्य हिस्सों में ज्वार, बाजरा, मक्का, सोयाबीन की फसलों की स्थिति अच्छी है.

अब तक तहसील के मंडल क्षेत्रों में दर्ज बरसात इस प्रकार है 

साक्री 21 मिमी (मौसम में अब तक कुल बारिश 392 मिमी ),

कासारे 23(398),

निजामपुर 18(459),

दुसाने 43(542),

म्हसदी 17(325),

पिंपलनेर 12(430),

ब्राह्मन्वेल 29(588),

कुडाशी 48(597),

उमरपाटा 55(636),

दहिवेल 52(631), तहसील क्षेत्र में

अब तक हुई बारिश 4998 मिमी दर्ज हुई है,

तहसील का कुल प्रतिशत 499.8 मिमी है.