मनमाड में मना आनंदोत्सव, कारसेवकों का किया गया सम्मान

मनमाड. अयोध्या में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीराम मंदिर का भूमिपूजन किया.वर्षों के लंबे इंतजार के बाद राम मंदिर का सपना पूरा होता देख मनमाड शहर परिसर में राम भक्त और विभिन्न हिंदुत्ववादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने आनंदोत्सव मनाया.इस अवसर पर वर्ष 1990 और वर्ष 1992 में किये गए श्रीराम जन्मभूमि मुक्ति आंदोलन में जिन 7 राम भक्तों ने सक्रिय भूमिका निभाई थी, उन सभी कारसेवकों का सम्मानित किया गया. यह क्षण ऐतिहासिक होने के कारण मनमाड शहर परिसर के राम भक्त और हिंदुत्वादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने आनंदोत्सव मनाया.

राम मंदिर के लिए  वर्ष 1990 और वर्ष 1992 में श्रीराम जन्मभूमि मुक्ति आंदोलन किये गए थे. इन दोनों आन्दोलनों में शहर के नितिन पांडे,अनिल चांदवडकर, प्रज्ञश खांदट, नाना शिंदे, पंकज जाधव, आमिष परीक,संजय भावसार ये 7 राम भक्त शामिल हुए थे.इनमें से संजय भावसार का निधन हो चुका है अन्य शेष 6 कारसेवकों का ओम मित्र मंडल,बजरंग दल समेत अन्य हिंदुत्वादी संगठनों द्वारा शाल, सम्मानपत्र देकर सत्कार किया गया. इस अवसर पर पूर्व नगरसेवक गोविंद रसाल, संतोष बलीद, पप्पू परब, भाजपा के नारायण पवार, सुभाष मालवतकर समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्त्ता उपस्थित थे.