1025 शिशुओं को दिया बेबी केयर किट

एकात्मिक बालविकास सेवा योजना के तहत

येवला. पंचायत समिति सभापति प्रवीण गायकवाड के हाथों से एकात्मिक बालविकास सेवा योजना के अंतर्गत बेबी केयर किट का वितरण किया. ये लाभ तहसील के 1025 शिशुओं को प्रदान किया गया है. पंचायत समिति की ओर से एकात्मिक बाल विकास सेवा योजना प्रोजेक्ट के अंतर्गत तहसील में कुल 281 आंगनवाड़ी केंद्रों में सरकार ने ग्रामीण इलाकों में जन्मे बच्चों को जंतु संसर्ग से होने वाली बीमारियों और बालमृत्यु को रोकने के लिये अस्पतालों में पैदा होने वाले नवजात शिशुओं के लिये बेबी केयर किट की कीमत 1996 रुपये है जिसमें 17 उपयोगी सामग्री है. इसमें छोटे बच्चे के कपडे़, बेबी टॉवेल, लंगोट, हाथों के दस्ताने, पैरों के लिये मोजे, छोटा गद्दा, मच्छरदानी, छोटा ब्लैंकेट, प्लास्टिक की चटाई, मसाज के लिये तेल,बॉडी वॉश, नैप्किन, हाथ धोने का पदार्थ, शैम्पों, झुनझुना, नेल कटर और थर्मामीटर पिन ये सभी सामग्री बेबी किट में शासन की ओर से दिया जा रहा है.

आंगनवाड़ी केंद्रों में वितरण

इस किट का वितरण सभापति प्रवीण गायकवाड ने आंगनवाड़ी में जाकर किया. तहसील की कई आंगनवाडि़यों में गायकवाड ने पहुंचकर बेबी किट आंगनवाड़ी व्यवस्थापक के सौंपा. इस अवसर पर पूर्व सभापति और विद्यमान सदस्य नम्रता जगताप,बाल विकास प्रकल्प अधिकारी भगवान गर्जे अधिकारी अनिल जऱ्हाड विजय जगताप मुख्यकार्यकारी सेविका  सरपंच नामदेव माली नाना लहरे भाऊसाहेब माली अजय मगर मुख्य सेविका निकुंभ मैडम ग्रामसेवक रोकडे बाबासाहेब दाभाडे भूषण दाभाडे दाभाडे बालासाहेब, सुनीता किरण मोरे सुभाष सोमासे दीपक विधाते गंगाधर मोरे विजय जगताप अंगनवाड़ी सेविका गीता विधाते मोनिका सोनवणे अवंतिका जगताप उपस्थित थे.