Rupee breaks five paise to 75.84 per dollar

  • पूर्व मंत्री अमरीश पटेल, विधायक पावरा का प्रयास रंग लाया
  • किसानों के खाते में जमा हुई बीमा राशि
  • 1025 केला उत्पादक किसानों को मिली राहत
  • 33000 रुपए मिला प्रति हेक्टेयर

शिरपुर. पूर्व मंत्री अमरीश पटेल और विधायक काशीराम पावरा के निरंतर प्रयास से लगभग 1025 केला उत्पादक किसानों को प्रति हेक्टेयर 33000 रुपए के अनुसार 3.38 करोड़ रुपये का केला फसल बीमा शिरपुर तहसील के किसानों को मंजूर हुआ है. यह राशि भी किसानों के खातों में जमा कर दी गई है. किसानों ने पूर्व मंत्री पटेल के इस प्रयास पर संतोष व्यक्त किया है.

किसानों ने पूर्व मंत्री का माना आभार

पूर्व मंत्री अमरीश पटेल, तालुका के विधायक काशीराम पावरा ने प्रधानमंत्री बीमा योजना के तहत पुनर्गठित मौसम आधारित फल फसल बीमा प्राप्त करने और तालुका में किसानों को न्याय दिलाने के लिए लगातार सरकारी स्तर पर ज्ञापन देकर प्रयास किया. जिसका परिणाम बीमा राशि के रूप में सामने आया.

ट्रिगर में उचित बदलाव के लिए सरकार पर दबाव

इसके अलावा अयोग्य ट्रिगर पर उचित ध्यान देने और वास्तविक रिकॉर्ड में सुधार के कारण, किसानों को धूप, हवा, बारिश पर आधारित फल फसल बीमा योजना का लाभ मिला. ट्रिगर योग्य बदलाव करने सरकार को बाध्य किया गया, जिसके कारण किसानों को केला फसल बीमा मिला. तालुका में हजारों किसानों ने केले, अनार, अमरूद, पपीता आदि जैसे फलों की बड़ी संख्या में पौधे लगाए थे. इन किसानों ने प्रधान मंत्री बीमा योजना के तहत पुनर्गठित मौसम आधारित फल फसल बीमा लिया है.

सामूहिक पंचनामा कर किया दावा

फल, अन्य फसलें और संपत्ति बीमाकर्ताओं ने तूफान से हुए नुकसान के सामूहिक पंचनामा के माध्यम से क्षतिपूर्ति बीमा का दावा किया. नुकसान की बीमा राशि प्राप्त करने के लिए विधायक काशीराम पावरा सहित कई पदाधिकारियों ने सरकार को ज्ञापन देकर मांग की थी. उनके प्रयास सफल रहे जिसके परिणाम स्वरूप हजारों किसानों ने पूर्व मंत्री अमरीश पटेल, विधायक काशीराम पावरा और बीजेपी के सभी पदाधिकारियों का आभार प्रकट किया है.

बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि के कारण कई अन्य फसलों को नुकसान पहुंचा था. सभी प्रभावित किसानों को मुआवजा देने का भी प्रयास किया जा रहा है. तालुका के कृषि अधिकारी शिरपुर और बीमा कंपनी के अधिकारी ने कहा कि बीमा कंपनी द्वारा किसानों के खाते में 3 करोड़ 38 लाख 25 हजार रुपये जमा किए गए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि शेष पात्र किसानों के खातों में पैसा जमा करने के लिए काम जारी है.अमरीश पटेल, पूर्व शिक्षा मंत्री

तेज बारिश और तूफान के कारण केला सहित अन्य फसलों को भारी नुकसान हुआ था. किसानों ने इन फसलों का बीमा कराया था.बीमा राशि मिलने में देरी होते देख लोगों ने पूर्व मंत्री अमरीश पटेल और विधायक पावरा से गुहार लगाई थी. इनके कारण ही फसल बीमा राशि मंजूर हो सकी. -गोविन्द पवार,  केला किसान