Corona

  • 165 मरीजों का चल रहा उपचार

शिर्डी. दिवाली के बाद राहाता तहसील में कोरोना मरीजों की संख्या ढाई गुना बढ़ गई है. आज की स्थिति में तहसील में 165 से अधिक कोरोना संक्रमितों का उपचार किया जा रहा है. अब तक 53 मरीजों की तहसील में मौत हो चुकी है. यह जानकारी तहसीलदार कुंदन हिरे ने दी. दिवाली में बाजार खुला होने के बाद राहाता तहसील में कोरोना का तांडव शुरू हो गया है.

आज की स्थिति में तहसील में 165 मरीजों पर कोविड सेंटर में उपचार शुरू है. शिर्डी के कोविड सेंटर में 121 मरीजों का उपचार किया जा रहा है. 7 मरीजों पर अति दक्षता कक्ष में उपचार किए जा रहे हैं. राहाता स्थित निजी कोविड सेंटर में 17 मरीजों का उपचार किया जा रहा है. लोणी स्थित कोविड सेंटर में 26 मरीजों पर उपचार किए जा रहे हैं. अन्य निजी अस्पताल में भी कुछ मरीजों पर उपचार किए जा रहे हैं. पिछले सप्ताह में तहसील में 50 मरीज उपचार ले रहे हैं.

स्वास्थ्य विभाग का बढ़ा सिर दर्द

इस सप्ताह में यह आंकड़ा ढाई गुना बढ़ने से आरोग्य विभाग का सिर दर्द बढ़ गया है. तहसील के अनेक गांवों में कोरोना मरीज बढ़ रहे हैं. राहाता ग्रामीण अस्पताल सहित तहसील के कुल 532 व्यक्तियों की टेस्ट करने के बाद 20 मरीज कोरोना पीड़ित पाए गए. इसमें राहाता शहर के 9 तो शिर्डी शहर के 4 मरीज शामिल हैं. यह जानकारी राहाता ग्रामीण अस्पताल के वैद्यकीय अधिकारी डॉ. गोकुल घोगरे ने दी. राहाता तहसील में अब तक कुल 20667 टेस्ट की गई, जिसमें 2885 मरीज कोरोना पीड़ित पाए गए. इस दरमियान 53 मरीजों की मौत हुई. तहसील में सबसे अधिक यानि 500 मरीज शिर्डी में अब तक मिले हैं.

साई मंदिर दर्शन के लिए खुलने के बाद शिर्डी में सावधानी बरतने की जरूरत है. छोटे बच्चे और वरिष्ठ नागरिकों पर दर्शना के लिए प्रतिबंध लगाए गए हैं. परंतु छोटे बच्चे और वरिष्ठ नागरिक मंदिर में दर्शन के लिए आ रहे है. तो वीआईपी लोग बगैर मास्क मंदिर में जा रहे हैं. मंदिर प्रशासन ने समय पर ध्यान नहीं दिया तो सभी को खामियाजा भुगतना होगा.