corona
File Photo

भुसावल. स्वास्थ्य विभाग कोरोना की पहली लहर के बाद दूसरी लहर की आशंका को देखते हुए तैयारियों में जुट गया है.  नौवीं से बारहवीं तक के स्कूल खोलने की पृष्ठभूमि पर  कोरोना के लिए 1100 शिक्षकों का परीक्षण किया गया है.

 स्वास्थ्य प्रशासन, नगरपालिका प्रशासन और पुलिस प्रशासन की मदद से कोरोना के प्रकोप को रोकने में सफल रहा. नगर निगम पुलिस प्रशासन दिवाली के बाद दूसरी लहर की आशंका से दो-दो हाथ करने स्वास्थ्य विभाग प्रशासन के साथ कमर कस रहा है. इसकी बदौलत कोरोना के रोगी धीरे-धीरे घट रहे हैं.  इसलिए नागरिकों के दिमाग में और साथ ही दूसरी लहर के बारे में चिकित्सा अधिकारियों में उतना डर नहीं है. 

हालांकि कोविड केयर सेंटर जो पहले शुरू किया गया था. अभी भी काम कर रहा है. शहर और तालुका में नगर निगम अस्पतालों, ट्रॉमा सेंटर, वरणगांव, किनही, कठोरा, वराड़शिम, पिंपलगांव में प्रतिदिन स्वैब लिया जा रहा है. इसके अलावा सप्ताह में एक दिन तालुका के हर गांव में स्वैब टेस्टिंग के लिए अलग रखा गया है.