कोरोना हारेगा-आपका बिज़नेस जीतेगा पर वेबिनार

 राकेश जैन ने किया मार्गदर्शन

बदलनी पड़गी व्यवसाय की रणनीति

शिंदखेड़ा. भारतीय जैन संगठन द्वारा मैनेजमेंट गुरु राकेश जैन का “कोरोना हारेगा-आपका बिज़नेस जीतेगा विषय पर व्यापारियों के लिए वेबिनार आयोजित किया गया. इस वेबिनार में संगठन के राज्य अध्यक्ष हस्तीमल बंब ने राकेश जैन को व्यापारी मित्र पुरस्कार की घोषणा की. कार्यक्रम का प्रास्ताविक राज्य सचिव अभय सेठिया ने किया. राकेश जैन ने कहा, कोरोना की महामारी में  व्यवसाय की रणनीति बदलनी पड़ेगी. इस स्थिति में व्यवसाय को एक मौका समझकर बदलाव करना पड़ेगा. कोरोना ने पूरी दुनिया को चपेट में ले लिया है. दुनिया में हम कहीं पर भी कम नहीं हैं.

आत्मविश्वास से होगी वृद्धि

कोरोना के काल में लोग इकट्ठा नहीं होंगे,  बकाया राशि पूरी तरह से वसूल नहीं होगी,  खर्च बढ़ेगा,  अनावश्यक गरज पूरी करने आदि पर व्यवसाय बंद हो सकता है.इस पार्श्व भूमि पर ऑनलाइन व्यवसाय की ओर मुड़ना चाहिए.  व्यवसाय के लिए आत्मविश्वास की आवश्यकता होती है. इसके लिए रॉक फेलर की कहानी राकेश जैन ने कही.जिन वस्तुओं की अब मांग है,  उन्हीं वस्तुओं के व्यवसाय की ओर मुड़ना. ग्राहकों से भी अपने व्यवसाय के कामगारों पर ध्यान देना आवश्यक है.जो घर चले गये उन्हें वापस लाना, जो ग्राहक जुडे हैं, उन्हें टिका कर रखना, जो ग्राहक अपने व्यवसाय से संतुष्ट हैं,  उन्हें पांच पांच नये ग्राहक लाने को कहना.माल की  होम डिलेवरी पर जोर देना आदि करने से इस हालत में भी व्यवसाय टिकेगा और इसमें वृद्धि होगी. 

चीनी सामान बनाने से बढ़ेगी आत्मनिर्भरता

चायना जो वस्तु बनाता है, वह अगर भारत में बने तो आत्मनिर्भरता बढ़ेगी. दो तीन साल में हम बड़ी छलांग लगा सकते हैं. इसके लिए राकेश जैन ने 25 सूत्री कार्यक्रम बताया. कार्यक्रम के अंतिम चरण मे प्रश्नोत्तर हुए. इसमें  दीपक जैन,  जयकुमार जैन,  शैलेश दलाल,  राजू जैन,  महेश श्रीश्रीमाल,  राजेश ओसवाल आदि द्वारा प्रश्न पूछे एवं राकेश जैन ने उन्हें उत्तर दिये.विनायक पारख, सविता सुतार ने वेबिनार की तकनीकी पक्ष को संभाला. राज्य प्रभारी नंदकिशोर सांखला, राज्य सहसचिव रत्नाकर महाजन,  राज्य उपाध्यक्ष केतन शाह,  दीपक चोपड़ा, हरकचंद बोरा, राज्य कार्यकारिणी सदस्य प्रा.चंद्रकांत डागा, पारस बागरेचा, विजय दुगड़, योगेंद्र फत्तेपुरिया ने संतोष प्रकट किया.