Corporator mosquito net movement

    नाशिकरोड. दसक-पंचक स्थित गोदावरी नदी में पानवेली बढ़ने से परिसर में मच्छरों (Mosquitoes) का साम्राज्य बढ़ गया है। इसके चलते नागरिक परेशान हो गए हैं। कुछ नागरिक बीमार हैं। प्रशासन (Administration) को बार-बार जानकारी देने के बाद भी पानवेली नहीं निकाली जा रही है, जिसे लेकर प्रभाग क्र- 18 की नगरसेविका मीरा हांडगे (Meera Handge) ने सभागृह में मच्छरदानी में बैठकर आंदोलन किया। 

    अधिकारी जब तक परिसर का दौरा नहीं करते और पानवेली निकालने का आश्वासन नहीं देते तब तक मच्छरदानी से बाहर नहीं निकलने पर नगरसेविका मीरा हांडगे अड़ी रहीं। इसके चलते प्रशासन अधिकारियों में भागम-भाग नजर आई। इस दरमियान पानवेली निकालने का आश्वासन विभागीय अधिकारी डॉ. दिलीप मेनकर ने दिया। ऐसा न होने पर पानवेली में ही आंदोलन करने की चेतावनी मीरा हांडगे ने दी। 

    मास्क वालों को ही अस्पताल में दें प्रवेश

    नगरसेवक सूर्यकांत लवटे ने विभागीय कार्यालय और नए बिटको अस्पताल में मास्क का उपयोग करने वालों को ही प्रवेश देने की मांग की। मनपा के कुछ अधिकारी व कर्मचारी मास्क का उपयोग नहीं कर रहे हैं, उन पर कार्रवाई करने की मांग की। कोरोना में डॉ. जितेंद्र धनेश्वर ने अच्छा काम किया। इसलिए उनका सम्मान किया गया। ज्योति खोले स्थायी समिति सदस्य बनने से उनका भी सम्मान किया गया। कोरोना का संकट होने के बाद भी लोकप्रतिनिधि सभा में मौजूद रहकर आरोग्य सहित अन्य समस्या रखेंगे, ऐसी नागरिकों की अपेक्षा थी। 

    सभा में 5 नगरसेवक ही उपस्थित

    सभा में केवल पांच नगरसेवक उपस्थित थे, जिसमें सभापति जयश्री खर्जुल, विभागीय अधिकारी डॉ. मानकर, नगरसेवक जगदीश पवार, सूर्यकांत लवटे, पंडित आवारे, मीरा हांडगे, ज्योति खोले आदि शामिल हैं। कुछ नगरसेवक ऑनलाइन शामिल हुए।