एकवीरा देवी मंदिर में ‘दीप उत्सव’, धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन

  • भक्तों से उपस्थित होने का आह्वान

धुलिया. खानदेश कुलस्वामिनी एकवीरा माता मंदिर में आज धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन यजमानों की प्रमुख उपस्थिति में होने जा रहा है. संध्या के समय मंदिर परिसर में हजारों की संख्या में मनोकामना पूर्ति के लिए 2100 दीप जला कर दीपोत्सव माता रानी के दरबार में मनाया जाएगा.

भक्तों से दीपों में तेल और बत्ती सहित विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों में श्रद्धा भक्ति भाव से उपस्थित होने का आह्वान संस्थान के अध्यक्ष सोमनाथ गुरव ने किया है.

2100 दिए रोशन कर दिप उत्सव मनाया जायेगा

आदिशक्ति एकविरा देवी मंदिर में दिवाली पाडवा के पावन पर्व पर सोमवार सुबह 8 बजे आरती पूजा अर्चना जल  अभिषेक किया जाएगा. दोपहर 12 बजे खान्देश की ग्राम देवी को विभिन्न प्रकार के नैवेद्य का भोग लगाया जाएगा और फिर माता श्री एकवीरा देवी के समक्ष 2100 दिए रोशन कर दिप उत्सव मनाया जायेगा.इस बीच ब्राहमणों की उपस्थिति में मंत्र जाप करने के शुभ  अवसर पर  भव्य पूजा पाठ मंत्र उच्चारण ब्राह्मण सभा की प्रमुख उपस्थिति में संपन्न होगा खान्देश आदिशक्ति प्रदेश के 5 शक्तिपीठ एकविरा देवी मंदिर संस्थान मनोकामना पूर्ति के लिए प्रति वर्ष की तरह इस साल भी माता के दरबार में दीप प्रज्वलित कर माता की आराधना कि जाएंगी. भक्तों को बड़ी संख्या में माता के दरबार में उपस्थित होकर अपनी मनोकामना पूरी करने दीप प्रज्वलित करने दर्शन के लिए उपस्थित होने का आव्हान मंदिर प्रशासन ने किया है.