फसलों का नुकसान भरपाई करने डीएम से गुहार

  • सांसद कोल्हे के वक्तव्य की कड़ी निंदा

शिंदखेड़ा. लोक क्रांति सेना ने  जिले में तूफान के साथ हुई बारिश से फसलों को हुए नुकसान का पंचनामा कर नुकसान भरपाई देने की मांग जिलाधिकारी से की. इस अवसर पर डीएम को उन्होंने सौंपा.  इस मौके पर सांसद अमोल कोल्हे के वक्तव्य की कड़ी निंदा की गई, जिसमें उन्होंने कहा था किओबीसी समाज अपना दिल बड़ा कर  मराठा समाज के वंचितों को आरक्षण दे सकता है.  जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर कार्यकर्ताओं ने गुस्सा प्रगट किया.

ज्ञापन में कहा गया है कि मराठा समाज के आरक्षण के बारे में कोल्हे द्वारा व्यक्त किया गया मत उनका व्यक्तिगत विचार है. अमोल कोल्हे ओ.बी.सी.हैं, फिर भी वह ओ.बी.सी.समाज के नेता नहीं हैं. मराठा समाज के स्वतंत्र आरक्षण के लिए वे लड़ेंगे तो, उसे हम पसंद करेंगे.ओ.बी.सी.आरक्षण में किसी का समावेश करने ओ.बी.सी.तैयार नहीं होगा. पहले वह ओबीसी आरक्षण

ओबीसी के आरक्षण को नुकसान बर्दाश्त नहीं

बढ़ाने संसद में प्रयास करें. जात निहाय जनगणना जैसे प्रलंबित ओबीसी के प्रश्न सुलझाने वह लड़ें, फिर कहें कि ओ.बी.सी.समाज का दिल बड़ा है.ओ.बी.सी.के आरक्षण को हानि पहुंचाने का कार्य  अमोल कोल्हे के माध्यम से होगा तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.  धुलिया जिले में मेघ गर्जना के साथ तूफान  के साथ हुयी बारिश से मक्का, सोयाबीन,मूंग आदि फसलों के साथ ही कपास, गन्ने का बड़ा नुकसान हुआ है. नुकसान हुए फसलों का तत्काल पंचनामा कर संबंधित किसानों को नुकसान भरपाई दें. इस मांग को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय के सामने धरना देकर ज्ञापन सौपा.

ज्ञापन पर लोक क्रांति सेना के संस्थापक अध्यक्ष देवेंद्र पाटील, वकील अघाड़ी के प्रदेशाध्यक्ष एड. ज्ञानेश्वर महाजन, वाहतुक सेना के  प्रदेशाध्यक्ष नरेंद्र अहिरे, जिलाध्यक्ष आसाराम माली, पवन देवरे,पदवीधर सेना के अध्यक्ष कैलास कोली,नरेंद्र हिरे के हस्ताक्षर हैं.