छुट्टी पर रहकर भी निभाया कर्तव्य, लुटेरों का पीछा कर पकड़ा

  • 4 सोने की चेन व चाकू बरामद

नाशिक. क्राईम ब्रांच के यूनिट 2 में कार्यरत गुलाब सोनार अपनी पत्नी के साथ संगमनेर से नाशिक आ रहे थे कि रास्ते में उन्हें 2 उचक्के बाईक पर भागते हुए दिखाई दिये. सोनार को उन पर संदेह हुआ तो उन्होंने दोनों का पीछा करना शुरू कर दिया. सिन्नर पार करने के बाद मोहदरी घाट में दोनों चोरों को पकड़ने में उन्हें सफलता मिल गई. शहर और आस-पास के इलाकों में रोज सोने की चेन चोरी होने की घटनाएं हो रही थीं. जिससे महिलाओं में भय पैदा हो गया था. इन चोरों को हिरासत में लेने के लिए पुलिस ने हर प्रकार का जाल बिछा रखा था, लेकिन उसे सफलता नहीं मिल रही थी. इससे पुलिस के काम पर लोगों को संदेह होने लगा था. 

पत्नी के साथ संगमनेर से लौट रहे थे सोनार

इस बीच सोनार छुट्टी लेकर अपने परिवार के साथ अपने निजी काम से संगमनेर गए हुए थे. वहां से वे अपनी पत्नी के साथ नाशिक लौट रहे थे कि नांदुर शिंगोटे के पास उन्हें काले रंग की जैकेट पहने 2 युवक दिखाई दिये. MH08 LP 5347 नंबर की मोटरसाइकिल पर दोनों चोर जा रहे थे. सोनार ने भी अपनी मोटरसाइकिल की गति बढ़ा दी और उनका पीछा करना शुरू कर दिया.

उन्हें संदेह हो गया था कि सीसीटीवी फुटेज में जिन चेन स्नैचरों को उन्होंने देखा था, यह वही चोर हैं. सोनार ने अपनी पत्नी और एक रिश्तेदार की सहायता से दोनों को पकड़ने में सफलता पाई. दोनों की तलाशी लेने पर उनके पास से मोटरसाइकिल के साथ कोब्रा स्पे, धारदार चाकू, फायटर और 4 सोने की चेन मिली. इन दोनों अपराधियों के विरुद्ध शहर के कई पुलिस थानों में विभिन्न प्रकार के मामले दर्ज हैं. पुलिस का कहना है कि दोनों ने शहर के हर पुलिस थाना क्षेत्र में चेन स्नैचिंग की है.