जिले की 221 ग्राम पंचायतों की चुनाव प्रक्रिया शुरू

  • मतदाताओं को रिझाने के लिए शराब और कबाब का दौर हुआ शुरू

देवा पाटील

धुलिया. राज्य चुनाव आयोग ने जुलाई और दिसंबर के बीच समाप्त होने वाली जिले की 221 ग्राम पंचायतों के वार्ड गठन के अंतिम चरण को शुरू करने की अनुमति दी है. जिसमे धुलिया तालुका में 72 ग्राम पंचायतों का कार्यकाल साक्री तालुका 49, शिंदखेड़ा तालुका 63 और शिरपुर तालुका में 32 ग्राम पंचायतों की मियाद समाप्त हो रही है. वार्ड गठन, आरक्षण अनुमोदन के साथ-साथ व्यापक प्रचार-प्रसार का आदेश दिया गया है. इसके चलते जिले में ग्राम पंचायत चुनाव जोरों पर हैं, राजनीति दलों ने बिगुल बजाने की तैयार कर लिया है. 

युवा चुनाव के लिए उत्सुक हैं. जुलाई से दिसंबर तक धुलिया तालुका में 72 ग्राम पंचायतों का कार्यकाल साक्री तालुका में 49, शिंदखेड़ा तालुका में 69 और शिरपुर तालुका में 32 का कार्यकाल समाप्त हो रहा है. जिसमें से धुलिया तालुका की 40 ग्राम पंचायतों, साक्री तालुका की 22 ग्राम पंचायतों और शिंदखेड़ा तालुका की 21 ग्राम पंचायतों में प्रशासक नियुक्त किए गए हैं. जिले में 221 ग्राम पंचायत चुनावों के लिए वार्ड गठन, मतदाता सूची और चुनाव प्रक्रिया की घोषणा के लिए चुनाव आयोग ने हरी झंडी दी.

युवाओं के बीच चुनावों को लेकर तैयारी 

कोरोना के कारण 17 मार्च को प्रक्रिया रोक दी गई थी. अब जब लॉकडाउन का प्रभाव कम हो गया है, तो चुनाव आयोग ने उसी स्थिति से संचालन फिर से शुरू करने का आदेश दिया है. अनुविभागीय अधिकारी से प्राप्त प्रस्ताव की जांच करने के बाद जिला कलेक्टर वार्ड रचना और आरक्षण को अंतिम स्वीकृति और इस पर हस्ताक्षर करेंगे. 2 नवंबर को अनुमोदित अंतिम वार्ड रचना को व्यापक प्रचार देने के भी आदेश हैं. नतीजतन, ग्राम पंचायत चुनाव ग्रामीण क्षेत्रों में पूरे जोरों पर हैं. ग्रामीण युवाओं के बीच चुनावों को लेकर तैयारी चल रही है. 

संभावित उम्मीदवारों ने शुरू की फील्डिंग

राजनीतिक दलों ने निर्वाचन क्षेत्र में फील्डिंग लगाना शुरू कर दिया है. संभावित उम्मीदवारों ने शराब और कबाब के पार्टियों का दौर शुरू कर दिया है जिसके चलते लॉकडाउन के बाद यह चुनाव काफी दिलचस्प साबित होंगे.