Fear of lockdown increases crowd in Trimbakeshwar temple

    त्र्यंबकेश्वर. त्रयंबकेश्वर (Trimbakeshwar) में दर्शन और धार्मिक पूजा के लिए आने वाले भक्तों की संख्या में अचानक वृद्धि हो गई। कोरोना (Corona) रोगियों की बढ़ती संख्या के कारण मंदिर के दरवाजे और सार्वजनिक परिवहन फिर से बंद होने की संभावना के डर से भक्तों की भीड़ बढ़ गई। भक्त इस भय के कारण देवदर्शन पूरा कर रहे हैं। 

    पिछले कुछ दिनों में राज्य के कई जिलों में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है, जिससे लॉकडाउन (Lockdown) होने की आशंका व्यक्त की जा रही है। त्र्यंबकेश्वर आने वाले भक्तों की संख्या अचानक बढ़ गई है। इससे पहले यह सभी अनुष्ठान आठ से दस महीने तक रुक गए थे। 

    सावधानी बरतने की जरूरत

    भक्तों की भीड़ को देखते हुए यहां के नागरिकों को अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है। यदि मंदिर में कोई मास्क नहीं लगाता है तो प्रवेश की अनुमति नहीं है। लाइन में खड़े होने के बाद लोग अपने चेहरे के मास्क नीचे खींचकर ठोढ़ी पर रख लेते हैं, जिससे वायरस का संक्रमण रुक नहीं सकता और लोग संक्रमित हो जाते हैं। लाइन में एक-दूसरे के निकट खड़े रहने से भी वायरस के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है, जिससे कोरोना संक्रमण में वृद्धि हो सकती है।

    त्र्यंबकेश्वर पुलिस सतर्क

    इस बीच, त्रयंबकेश्वर पुलिस को बढ़ते कोरोना के बारे में सतर्क कर दिया गया है और बिना मास्क के पाए जाने पर मामले दर्ज किए जा रहे हैं। साथ ही भीड़ के एक साथ आने पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।