पहले पत्थर फेंका, अब कार्यालय जलाने की कोशिश

  • मनोरोगी का भाजपा पर एक के बाद एक हमला

जलगांव. मनोरोगी ने शनिवार की देर रात भारतीय जनता पार्टी के “वसंत स्मृति” कार्यालय के दरवाजे पर कचरा फेंककर आग लगाने की कोशिश की. इसी व्यक्ति ने पिछले सप्ताह पूर्व मंत्री गिरीश महाजन का कथित रूप से अपमान किया था और निरीक्षक के वाहन पर पत्थर फेंका था. अब सवाल यह है कि यह  मनोरोगी भाजपा से नाराज क्यों है.

बीजेपी कार्यालय में आग लगाने के आरोप में विजय श्रीरंग पवार को जलगांव शहर पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इस मामले में भाजपा वरिष्ठ नेता प्रकाश भगवानदास पंडित की  फरियाद पर पुलिस ने मामला दर्ज किया है.

दरवाजे में आग लगा दी

शिकायत में कहा गया है कि शनिवार की देर रात को विजय पवार ने कचरा इकट्ठा किया और उसे भाजपा कार्यालय में ले गया और दरवाजे में आग लगा दी. पिछले हफ्ते भाजपा निरीक्षक शहर में आए थे और शाम को उनके वाहन पर उसी मनोरोगी ने पत्थर फेंका था और विधायक गिरीश महाजन को गाली गलौज कर अपमानित  भी किया था. संदिग्ध विजय को बिना किसी शिकायत के रिहा कर दिया गया था.  इस बार अब विजय पवार ने सीधे कार्यालय को जलाने की कोशिश की.  ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि बीजेपी पर उसका गुस्सा क्या है.