नए सिरे से आने वाले पटवारी अच्छा काम करें

  • जिलाधिकारी मांढरे ने दी सलाह
  • जिले के 67 पटवारियों का प्रशिक्षण शुरू

नाशिक. राजस्व प्रशासन के पटवारी पद का नागरिकों से प्रत्यक्ष संबंध होता है. पटवारी प्रशासन के प्रतिनिधि के रूप में नागरिकों के लिए कार्यरत होता है. इसलिए सरकारी सेवा में पटवारी पद का पदभार लेने से पहले संबंधित पटवारियों को सही प्रशिक्षण देने का निर्णय नाशिक के जिलाधिकारी सूरज मांढरे ने लिया. इसके तहत नवनियुक्त पटवारियों के लिए एक सप्ताह का प्रशिक्षण कार्यक्रम जिलाधिकारी कार्यालय के नियोजन भवन में शुरू किया गया है.

सभी पटवारी दर्जात्मक काम करें. जिलाधिकारी कार्यालय के नियोजन भवन में 2020 बैच के 67 पटवारियों के 5 दिवसीय प्रशिक्षण वर्ग को जिलाधिकारी सूरज मांढरे ने भेंट दी. इस दौरान वह पटवारियों को संबोधित कर रहे थे. इस समय निवासी उपजिलाधिकारी भागवत डोईफोडे, उपजिलाधिकारी बबन काकडे, प्रशिक्षण वर्ग समन्वयक उप जिलाधिकारी गणेश मिसाल, तहसीलदार राजेंद्र नजन आदि उपस्थित थे. पटवारियों का मार्गदर्शन करते हुए जिलाधिकारी मांढरे ने कहा कि पटवारी का संबंध प्रत्यक्ष नागरिकों से होता है. इसलिए अपने विभाग की छवि अच्छी रखने की जिम्मेदारी इस पद पर होती है. इस पद के माध्यम से नागरिकों की सेवा करने का अवसर मिलता है. 

अनुभवी अधिकारी-कर्मचारियों से सीखें काम

अपने कार्य से किसी को लाभ मिल रहा है तो? उस कार्य को आवश्य प्राथमिकता दें. अनुभवी अधिकारी-कर्मचारियों से काम कैसे करना है? यह सीखें. नए युग में सरकारी सेवाओं को तकनीक की मदद लेकर काम करें. सोशल मीडिया का सही तरह से उपयोग करते समय वाट्सएप, टेलीग्राम जैसे संवादात्मक अप्लिकेशन का भी उपयोग करें. किसी भी कार्य के लिए प्रशिक्षण लेना अच्छा होता है. पद पर कार्य करते समय आने वाली समस्याओं को हल करने के लिए नियोजन करें. प्रशिक्षण के बारे में जानकारी देते हुए प्रशिक्षण समन्वयक उप जिलाधिकारी गणेश मिसाल ने कहा कि 5 दिवसीय होने वाला प्रशिक्षण दो चरण में है. पहले दो दिन नियोजन सभागृह तो शेष 3 दिन ऑनलाइन सत्र लिया जाएगा. इस दौरान उप जिलाधिकारी बबन काकडे, अरविंद अंतुर्लीकर, तहसीलदार अनिल दौडे, राहुल कोताडे, मंडल अधिकारी सचिन जगताप, जे. डी. बंगाले आदि भी मार्गदर्शन करेंगे.