गैस विस्फोट से घर जलकर खाक

  • रेगुलेटर के कारण हादसा होने की चर्चा
  • उज्ज्वला योजना पर उठे सवाल

धुलिया. शिरपुर तहसील के आंबा गांव में सोमवार तडके हुए गैस विस्फोट में घर जलकर खाक हो गया. लेकिन किसी के हाताहत होने की खबर नहीं है. उज्ज्वला योजना के तहत मुफ्त मे मिले गैस सिलेंडर का रेगुलेटर कमजोर होने की चर्चा नागरिकों में है.

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत तहसील में बड़ी संख्या में मुफ्त गैस सिलेंडर मिले थे. जिनमें अधिकतर सिलेंडर अनुदान राशि बंद होने के बाद धूल खाते कोने मे पडे़ हुए हैं. वहीं चूल्हा व रेगुलेटर कमजोर होने की शिकायतें ग्रामीणों द्वारा मिली है. इन्हें देखते ही घटिया किस्म की सामग्री दिए जाने के प्रमाण मिल जाता है.

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार शिरपुर तहसील के आंबा गांव में भिलाटी मुहल्ले में ऊषा आत्माराम भील नामक महिला तड़के रसोई बना रही थी. इस दौरान सिलेंडर से औचक गैस रिसाव होने लगा और देखते ही देखते कुछ ही क्षणों में गैस का जोरदार विस्फोट हो गया. गैस रिसाव एवं आग की ज्वाला देखते ही महिला भाग निकली. किंतु पूरा घर जलकर खाक हो गया. इस बीच किसी के हताहत होने की दुर्घटना नहीं है.

दमकल ने आग पर पाया काबू

जानकारी मिलते ही दमकल के कर्मचारी घटनास्थल पर पहुंचकर आग को काबू में किया. दोपहर को गैस एजेंसी के कर्मी पंचनामा कर रहे थे. लेकिन गरीब लोगों को नकली वस्तुओं की आपूर्ति कर उनकी जान से खिलवाड हो रहा है. इस घटना से प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना कठघडे़ में खड़ी है.