मराठा समाज को ओबीसी प्रवर्ग में करें शामिल

  • मराठा सेवा संघ की मांग
  • तहसीलदार वारुले और प्रांत अधिकारी कासार को सौंपा ज्ञापन

येवला. मराठा समाज को ओबीसी प्रवर्ग में शामिल करने की मांग को लेकर येवला तहसील मराठा सेवा संघ की ओर से तहसीलदार रोहिदास वारुले व प्रांत अधिकारी सोपान कासार को ज्ञापन सौंपा गया. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, उपमुख्यमंत्री अजित पवार व मराठा आरक्षण समन्वय समिति के अध्यक्ष अशोक चव्हाण के नाम से यह ज्ञापन दिया गया.

इस समय येवला तहसील अध्यक्ष बाजीराव सोनवणे, बालासाहब सोमासे, आनंदा बर्शीले, प्रमोद देवडे, माधव इंगले, शिवाजी सातालकर, किरण जाधव, जयराम नले, दत्ता भोरकडे, संदीप गटकल, शंकर लांडगे, शिवाजी सावंत, संजय हिरे, नितीन अहिरे, सुरेंद्र ढोकणे, विजय मुंगसे, कृष्णा गरुडे, विजय गायकवाड़, दिनकर दाणे आदि उपस्थित थे. 

ज्ञापन में महाराष्ट्र राज्य मागास वर्ग आयोग की स्थापना, न्यायमूर्ति एम. जी. गायकवाड़, राज्य मागास वर्ग आयोग की रिपोर्ट 2018 का संदर्भ देकर मराठा समाज को ओबीसी प्रवर्ग में शामिल करने की मांग की गई है. न्यायमूर्ति एम. जी. गायकवाड़ आयोग ने सभी जांच कर अपनी रिपोर्ट सरकार के सामने पेश की है. इसलिए मराठा समाज को राज्य घटना की धारा 340 के आरक्षण के लिए पात्र बताया है.