lepord

    इगतपुरी. इगतपुरी तहसील (Igatpuri Tehsil) में आम नागरिकों पर तेंदुओं (Leopards) के हमले की घटनाओं में इजाफा हुआ है। विगत सप्ताह में तहसील में खेडभैरव परिसर के ठाकुरवाड़ी परिसर में दादा के साथ घर लौट रही बालिका को तेंदुओं ने अपना निशाना बनाया था।

    इस घटना के सात दिनों बाद फिर से एक बार उसी इलाके में शाम सात बजे के आस पास घात लगाकर बैठे तेंदुए ने 45 वर्षीय युवक पर हमला किया। इस घटना में युवक गंभीर रूप से घायल हो गया है। इन घटनाओं से इगतपुरी तहसील के खेड परिसर में दहशत का माहौल है। वन विभाग (Forest Department) ने चार पिंजरे लगाए हैं और नागरिकों को सतर्क रहने की अपील की गई है।

    खेत में काम कर रहे युवक पर हमला

    इस बीच, दोपहर को घोड़े वाड़ी निवासी पंढरी घोड़े नामक 37 वर्षीय युवक पर खेती में कार्य करते समय हमला किया गया। इस दौरान युवक की चीख से तेंदुआ भागा, लेकिन युवक मामूली रूप से घायल हो गया। इस घटना के कारण खेडभैरव, काननवाड़ी, ठाकुरवाड़ी परिसर में सनसनी फैल गई है। ग्रामीण भयभीत हैं, जिसे ध्यान में रखकर वन विभाग ने दो पिंजरे लगाए हैं। साथ ही वन्यजीवों की गतिविधियों का निरीक्षण करने के लिए ट्रैप कैमरे भी लगाने का प्रयास होने की जानकारी वन विभाग के सूत्रों ने दी। ठाकुरवाड़ी निवासी आवडू सोमा आवाली (45)  शाम को घर के समीप खड़ा था। जिस पर तेंदुए ने हमला किया। 

    लोगों की भीड़ देख तेंदुआ भागा

    इसकी भनक लगने के बाद ग्रामीण आगे बढ़े। इसके बाद लोगों की भीड़ देख तेंदुआ भाग गया। इसके बाद घायल युवक को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती किया गया। इस परिसर में बालिका पर हमला होने के बाद वन विभाग ने दो पिंजरे लगाए थे, लेकिन तेंदुआ वहां पर नहीं आया। इसके बाद एक ही इलाके पर दो व्यक्तियों पर हमला किया गया। तेंदुओं को कैद करने के लिए तहसील वन परिक्षेत्र अधिकारी रमेश ढोन्नर के मार्गदर्शन में वनपाल दत्तू ढोन्नर और वनरक्षक, वन मजदूर प्रयास कर रहे हैं।