Medical college gift to Nashik, complete construction work soon Chhagan Bhujbal

    नाशिक. सरकार ने महाराष्ट्र यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज के तहत एक नया मेडिकल कॉलेज (New Medical College) और एक अस्पताल (Hospital) शुरू करने की मंजूरी (Approval) दे दी है। यह मेडिकल कॉलेज और अस्पताल जिले की स्वास्थ्य सुविधाओं में वृद्धि करेगा। नाशिक जिले के पालक मंत्री छगन भुजबल (Guardian Minister Chhagan Bhujbal) ने कहा कि विश्वविद्यालय को अगले कई वर्षों को ध्यान में रखते हुए मेडिकल कॉलेज और अस्पताल के निर्माण का काम प्राथमिकता से पूरा करना होगा और आवश्यक तकनीकी मुद्दों और धन को पूरा करना होगा। 

    इस परियोजना से नाशिक जिले में चिकित्सा सुविधाओं में वृद्धि होगी और इस परियोजना के लिए सभी आवश्यक सहायता सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी, पालकमंत्री ने इस बात की गवाही दी कि यह सारे काम जल्द ही पूरे कर लिए जाएंगे। वह जिलाधिकारी कार्यालय के सेंट्रल हॉल में आयोजित महाराष्ट्र यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज नाशिक में मेडिकल कॉलेज अस्पताल के भवन और महाराष्ट्र पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे।

    अनुभवी वास्तुकार की करें नियुक्ति

    उन्होंने कहा कि भवन का निर्माण करते समय लोक निर्माण विभाग को महाविद्यालय एवं अस्पताल सुविधाओं की बेहतर योजना बनाने के लिए एक अनुभवी वास्तुकार की नियुक्ति करनी होगी। महाराष्ट्र पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट के पाठ्यक्रम के संबंध में मराठा विद्या प्रसारक संस्था के साथ एक समझौता किया गया है और इसी तरह के समझौते पर जल्द से जल्द जिला सामान्य अस्पताल के साथ हस्ताक्षर किए जाएंगे। जैसा कि केंद्र सरकार द्वारा सभी स्वास्थ्य संस्थानों को धन उपलब्ध कराया जा रहा है, महाराष्ट्र स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय को भी अपने स्तर पर इस परियोजना के लिए धन की उपलब्धता के लिए एक तत्काल प्रस्ताव भेजें। पालक मंत्री छगन भुजबल ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया है।

    प्रशासन को देना होगा हर अपडेट

    डीएम सूरज मांढरे ने कहा कि महाराष्ट्र स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, नाशिक नवनिर्मित मेडिकल कॉलेज और अस्पताल भवन के निर्माण और अन्य आवश्यक मामलों को पूरा करने के लिए प्रशासन पूरे जोश के साथ काम करेगा। साथ ही इस परियोजना को स्थापित करते समय समय-समय पर विश्वविद्यालय स्तर पर बैठकें, प्रस्ताव भिजवाने, किये जाने वाले कार्यों की पूरी जानकारी प्रशासन को देनी होगी, ताकि कार्य में किसी प्रकार की कठिनाई होने पर प्रशासन को सहयोग मिले। बैठक में रजिस्ट्रार कालिदास चव्हाण ने मेडिकल कॉलेज व अस्पताल भवन के संबंध में की जाने वाली कार्रवाई की जानकारी दी। स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा के संबंध में जिला सामान्य अस्पताल, नाशिक के साथ शीघ्र ही समझौता किया जाएगा। चव्हाण ने इसे पालक मंत्री भुजबल के सामने पेश किया है। बैठक में नाशिक महानगरपालिका कमिश्नर कैलाश जाधव, सार्वजनिक बांधकाम विभाग के अधीक्षक अभियंता एस.एन. राजभोज, महावितरण के अधीक्षक अभियंता प्रवीण दरोली, कार्यकारी अभियंता सिद्धार्थ तांबे, चिकित्सा उपसंचालक डॉ. पी.डी. गांडाल, जिला शल्य चिकित्सक डॉ. अशोक थोरात, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कपिल आहेर विश्वविद्यालय के समन्वयक डॉ. संदीप गुंडरे आदि उपस्थित रहे।