rain
PTI Photo

    नाशिक. जून के प्रथम सप्ताह में नाशिक शहर (Nashik City) सहित जिले में मानसून (Monsoon) का जोरदार आगमन हुआ। शनिवार के बाद रविवार और सोमवार को जोरदार बारिश (Rain) हुई। शाम के दौरान मध्यवर्ती इलाकों में रिमझिम बारिश, रात में फिर से बारिश हुई। 

    मानसून का आगमन समय पर शुरू होने से किसानों में खुशी देखने को मिल रही है। इस बार नागरिकों को मौसम में कई बदलाव देखने को मिले। तूफान सहित समुंदर में निर्माण होने वाले कम दबाव का क्षेत्र  निर्माण होने के बाद बनी चक्रवात की स्थिति, इसके बाद आया प्राकृतिक संकट, बेमौसमी बारिश का सामना करना पड़ा।

    औसत से अधिक बारिश होने का अनुमान

    मौसम विभाग ने इस बार औसत से अधिक बारिश होने का अनुमान ने लगाया है। शहर में रोहिणी नक्षत्र के पांच दिनों में 41।9 मिमी बारिश दर्ज होने की जानकारी पेठ रोड के मौसम निरीक्षण केंद्र के माध्यम दी गई है। शहर में दोपहर डेढ़ बजे से आसमान में मेघ गर्जना शुरू हुई। इसके बाद नाशिक शहर, शिंदेगाव, नाशिकरोड, विहितगांव, जेलरोड, उपनगर, द्वारका परिसर में मुसलाधार बारिश हुई। करीब 30 से 45 मिनट तक बारिश हुई। शहर के मध्यवर्ती इलाके में भी दमदार बारिश हुई। शाम के बाद भगूर, दोनवाड़े, देवलाली कैम्प परिसर में बारिश ने सलामी दी। विगत चार दिनों से शहर के तामपान में गिरावट महसूस की जा रही है। सोमवार को अधिकतम तापमान 28।7 व न्यूनतम तामपान 22।9 दर्ज किया गया। अगले तीन दिनों तक बारिश होने का अनुमान मौसम विभाग ने लगाया है। सुबह अद्रता का प्रमाण 90 प्रतिशत व शाम को 72 प्रतिशत रहा।