एनडीसीसी बैंक की 43 शाखाएं होंगी बंद

अन्य शाखाओं में होगा विलीनीकरण

बकाया की वजह से बैंक पर आर्थिक संकट 

नाशिक. आर्थिक संकट में फंसे जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक ने घाटे में चल रही 43 शाखाओं को बंद करने का निर्णय लिया है. इन शाखाओं का नजदीक की शाखा में विलीनीकरण किया जाएगा. इस निर्णय से किसानों को नई समस्या का सामना करना होगा. बता दें कि नोटबंदी और बकाया कर्जधारकों की वजह से जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक आर्थिक समस्या का सामना कर रहा है. कर्ज वसूली बंद होने से बैंक के पास पर्याप्त निधि नहीं है. ऐसे में राज्य सरकार द्वारा घोषित फसल कर्जमुक्ति के एक हजार करोड़ रुपए न मिलने से बैंक दिन ब दिन आर्थिक संकट में फंसता जा रहा है. 

खर्च में कटौती का निर्णय

इसके चलते बैंक प्रशासन ने खर्च में कटौती करने की नीति अपनाई है. इसके तहत जिला बैंक ने अपना मुख्यालय द्वारका से पुराने सीबीएस स्थित अपनी मूल जगह पर पहले ही स्थलांतरित किया है. अब नुकसान में होने वाली शाखाओं को बंद करने का निर्णय लिया है. जिला बैंक की अधिकतर शाखा कार्यालय किराए पर हैं. किराए के साथ खर्च अधिक है. कुछ शाखाओं के बीच का अंतर 2 से 5 किलो मीटर होने से खर्च बढ़ गया है. अब नाशिक शहर की गांधीनगर व नगर पालिका शाखा बंद की गई है. उनका देवलाली गांव और जिला परिषद शाखा में विलीनीकरण किया गया है. अन्य शाखाएं बंद करने की कार्रवाई चरण-चरण में होगी. तीन माह में सभी 43 शाखाओं को बंद कर उनका विलीनीकरण किया जाएगा.

इन शाखाओं का होगा विलीनीकरण

पलसे कारखा (शिंदे, ता. नाशिक), नगर पालिका (जिला परिषद), गांधीनगर (देवलाली गांव), आनंदवली (माडेल कालोनी), ओढा (माडसांगवी), देवलाली गांव, म्हसरूल (मार्केट यार्ड, पेठरोड), दरी (मखमलाबाद), लहवित (भगूर), लासलगांव (मार्केट यार्ड), ओझर तांबट (य. मा. ओझर), गोदेगांव (विंचूर), शिरवाडे (वाकद), गोंडेगांव (पिंपलगांव बसवंत), मार्केट यार्ड (पिंपलगांव बसवंत), पिंपलस रामा का (भाऊसाहब नगर), टिलक रोड (मालेगांव), मालेगांव कैम्प (मार्केट यार्ड), तलवाडे (रावलगांव), पाडलदे (सायने बुद्रुक), विराणे (वडनेर खाकुर्डी), ब्राम्हणगांव (लखमापुर), मार्केट यार्ड, नामपुर, सटाणा शहर, चांदवड (मार्केट यार्ड), भाटगांव (सोग्रस), जबरेश्वर रोड, येवला (मार्केट यार्ड), सावरगांव (मार्केट यार्ड, येवला), भारम (सायगांव), कलवण (मार्केट यार्ड), जयदर (कनाशी), टाकेद (कवडदरा), गोंदे दुमाला (घोटी), दिंडोरी मार्केट यार्ड, नांदगांव शहर, पिंपलगांव वाखारी (देवला), खामखेडा (विठेवाडी), भऊर आदि शामिल है.