जिले के 10 हजार किसानों को नोटिस

  • गलत जानकारी देकर उठाया योजना का लाभ

नाशिक. आर्थिक स्थिति बेहतर होने के बावजूद प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना का कुछ किसानों द्वारा लाभ उठाने की घटना प्रशासन के सामने आई है. जिले के 10 हजार 300 किसानों को जिला प्रशासन ने नोटिस भेजा है. सभी किसान इनकम टैक्स चुका रहे थे. इस जानकारी से योजना के समन्वयक भागवत डोईफोडे ने निवासी उपजिलाधिकारी को अवगत कराया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  अल्पभूधारक किसानों के लिये प्रधानमंत्री  किसान सम्मान योजना शुरू की है.

योजना के अंतर्गत 2 एकड़ अथवा उससे कम जमीन पर खेती करने वाले किसानों के खाते में हर वर्ष 6000 रुपये का अनुदान 3 चरणों में जमा किया जाता है. विगत चुनाव में सत्ता में आने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने अल्पभूधारक शर्त को शिथिल किया. सभी किसानों को अनुदान मिला, जिसके लिये बैंक खाता, आधारकार्ड, पैनकार्ड लिंक किया गया. आर्थिक स्थिति अच्छी होने वाले किसानों को इससे हटाया गया. इस योजना को दो वर्ष पूर्ण हो रहे हैं. केंद्र सरकार द्वारा इस योजना का आडिट कराने के बाद पता चला कि संबंधित योजना का लाभ इनकम टैक्स चुकाने वाले भी उठा रहे हैं. संबंधित किसानों की सूची स्थानीय प्रशासन को दी गई, जिसमें नाशिक जिले के 10 हजार 300 किसान शामिल हैं.

वसूली जाएगी रकम

पीएम किसान योजना की ऑॅडिट के दौरान आयकरदाता किसानों द्वारा भी इस योजना का लाभ लेने की बात सामने आई है. केंद्र सरकार को इसकी जानकारी मिलने के बाद कार्रवाई शुरू हुई. जिले में आयकर भरने वाले 10 हजार 300 किसानों की सूचना मिलने के बाद इस मामले में  नोटिस दिया गया है. संबंधितों के पास से यह रकम वसूल की जाएगी. 

-भागवत डोईफोडे, निवासी उपजिलाधिकारी