कानून का पालन करने पर नहीं भेजी जाएगी नोटिस

पुलिस आयुक्त दीपक पांडेय की अपील

नाशिक. नाशिक के मराठा क्रांति मोर्चा के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं को परेशान करने के मकसद से धारा 149 के तहत पुलिस नोटिस नहीं देगी. परंतु कानून और व्यवस्था में बाधा निर्माण न हो, इसकी जिम्मेदारी मराठा क्रांति मोर्चा के प्रमुख समन्वयक लें. ऐसी अपील पुलिस आयुक्त दीपक पांडेय ने की. बता दें कि आरक्षण के लिए मराठा क्रांति मोर्चा आक्रामक हुआ है. लोकप्रतिनिधियों को रास्ते पर नहीं आने देने की चेतावनी पदाधिकारियों ने दी है.

शहर की कानून व व्यवस्था में बाधा निर्माण हो, ऐसा आंदोलन मराठा क्रांति मोर्चा के माध्यम से न हो, इसलिए शहर पुलिस सतर्क है. पुलिस ने कुछ समन्वयकों को धारा 149 के तहत नोटिस जारी की है. इसके चलते मराठा क्रांति मोर्चा में रोष निर्माण हो रहा है. इस पार्श्वभूमि पर मराठा मोर्चा के करण गायकर, राजू देसले, तुषार जगताप, गणेश कदम, आशिष हिरे आदि समन्वयकों ने पुलिस आयुक्त दीपक पांडेय से पुलिस आयुक्तालय में चर्चा की.  मोर्चा के आंदोलन की परंपरा कायम रहेगी, जिसका आश्वासन समन्वयकों ने पुलिस आयुक्त पांडेय को दिया.

आयुक्त से मिले मराठा क्रांति मोर्चे के प्रतिनिधि

कानून व व्यवस्था अबाधित रखने के लिए मराठा युवाओं ने हमेशा पहल की. समाज का जीवन प्रभावित नहीं होगा. यही मराठा आंदोलन का मुख्य एजेंडा है. इस पर पुलिस आयुक्त पांडेय ने समाधान व्यक्त किया. शहर पुलिस बिना वजह कार्रवाई नहीं करेगी. ऐसा आश्वासन पांडेय ने समन्वयकों को दिया. इस समय पुलिस उपायुक्त लक्ष्मीकांत पाटिल, अमोल तांबे आदि उपस्थित थे. छत्रपति के आदर्श मार्ग पर कामकाज करने वाला यह समाज नागरिकों को परेशान नहीं करेगा. परंतु कोई भी समाज को लेकर टीका न करे. ऐसी अपील समन्वयकों ने की.