Gutkha

  • फेरी लगा कर चाय बेचने वाले भी काट रहे माल
  • 5 और 10 रुपये का गुटखा 20 से 50 रुपए में मिल रहा

मालेगांव. मालेगांव शहर में फेरी करके चाय बेचने वालों की संख्या हर दिन बढ़ती जा रही है. मालेगांव शहर में वैसे तो चाय के लिये हजारों होटल खुले हैं जो खाद्य पदार्थ बिक्री के लायसेंस के बिना धंधा करते हैं. इसी के साथ साथ गुटखे की बिक्री पूरे मालेगांव शहर में अब पान की दुकानों से ना होते हुए चाय के होटलों और फेरी करके चाय बेचने वाले फेरीवालों के द्वारा की जा रही है. शहर में कुछ बडे़ अवैध गुटखा कारोबारी सक्रिय हैं जो इन चाय वालों को माल की आपूर्ति कर रहे हैं. मालेगांव शहर के मध्य इलाकों में फेरी करके चाय बेचने वालों की संख्या अधिक बढ़ गई है जो चाय के साथ साथ अवैध गुटखे का व्यापार करते भी दिखाई दे रहे हैं.

पुलिस ने पकड़ा था गुटखा का जखीरा

5 और 10 रुपयों की गुटखों की पुड़ियां 20 रुपए से लेकर 50 रुपयों तक बेची जा रही है. पान की दुकानों पर गुटखा और पान मसाला ना बेचते हुए अवैध व्यापारियों ने चाय के होटलों और फेरी वालों को माल देना शुरू कर दिया है. कुछ दिनों पहले पुलिस ने गुटखे का एक बड़ा जखीरा पकड़ कर दोषियों को सजा भी दी थी. लेकिन दूसरे दिन से फिर कारोबार शुरू कर दिया गया. अब गुटखा बिक्री के लिये चाय वालों का चयन करके गुटखा व्यापारी रोज लाखों का व्यापार कर रहे हैं. चाय के एक फेरी वाले ने अपना नाम जाहिर ना करने की शर्त पर बताया कि इस संबंध में पुलिस छुटपुट कार्रवाई करके व्यापारी को छोड़ देती है. गुटखे के जो बडे़ व्यापारी हैं जो शहर में लाखों का माल लाकर बिक्री करते हैं.

पुलिस विभाग को दी जाती है रिश्वत

उनसे पुलिस विभाग को रकम पहुंचाई जाती है. शहर वासियों की भी शिकायत है कि चाय के  फेरी वाले दिन के साथ रात भर भी चाय के साथ गुटखे का धंधा करके युवाओं में इस बुराई को बढ़ाने का काम कर रहे हैं. पुलिस का ऐसा व्यापारियों पर कार्रवाई करके उन्हें सजा देनी होगी तभी गुटखा कारोबारी पकड़े जाएंगे और यह अवैध धंधा शहर में खत्म होगा. लोगों ने ऐसी भी शिकायत की है कि चाय के होटलों पर बिकने वाले गुटखे पर भी रोक लगाई जानी चाहिए.