शौचालय का घटिया निर्माण, ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट में डालें

यावल. डोंगर कठोरा में घटिया शौचालय का निर्माण करने वाले ठेकेदार को ब्लैकलिस्ट में डालने की मांग ग्रामीणों ने डीएम से की है. इस कार्य में बड़े पैमाने पर घपला किया गया है. निर्माण कार्य की तीसरी एजेंसी द्वारा जांच निर्धारित करने की मांग ज़िला अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर की गई है. 

यावल तहसील के डोंगर कठोरा में  ग्राम पंचायत के माध्यम से शौचालय का निर्माण बहुत ही घटिया स्तर का ठेकेदार द्वारा किया जा रहा है. इस कार्य की जांच कराए जाने और संबंधित ठेकेदार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग ग्रामीणों और विभिन्न सामाजिक संगठनों ने जिला कलेक्टर से की है.

नियमों की उड़ रहीं धज्जियां

ज़िला प्रशासन को सौंपे ज्ञापन में कहा गया है कि डोंगर कठोरा तालुका यावल स्थित ग्राम पंचायत के माध्यम से शासन के लाखों रुपये की अनुदान राशि खर्च कर अनुसूचित जनजाति आदिवासी बस्ती में शौचालय का निर्माण कार्य किया जा रहा है.उक्त ठेकेदार द्वारा निविदा में लिखी शर्तों का उल्लंघन करते हुए नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. सरकारी टेंडर के अनुसार ठेकेदार द्वारा उल्लिखित शौचालय का काम अवर गुणवत्ता का है, कलेक्टर को कार्य की संरचनात्मक ऑडिट करना चाहिए और ठेकेदार से वसूली की जानी चाहिए. ग्रामीणों और विभिन्न संगठनों ने जिलाधिकारी अभजीत राउत को ज्ञापित कर मांग की है कि नियमों का उल्लंघन कर घाटियां शौचालय का निर्माण करने वाले ठेकेदार का नाम सरकारी नियमों के आधार पर ब्लैकलिस्ट किया जाए.