बढ़े बिजली बिलों से परेशान जनता, तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

  • लोक क्रांति सेना ने बिजली बिलों की जलाई होली

शिंदखेडा. लोक क्रांति सेना ने लॉकडाउन के दरम्यान के बिजली बिलों को माफ करने की मांग की है. सरकार का ध्यान आकर्षित कराने के लिए संगठन ने बिजली बिलों की होली जलाई. इसके बाद तहसीलदार एवं बिजली वितरण कंपनी के  सहायक अभियंता को ज्ञापन दिया. 

लॉकडाउन में  देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई 

ज्ञापन में बताया गया है कि कोरोना विश्व महामारी की वजह से लॉकडाउन में देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है. इसी के साथ ही आम आदमी की कमर टूट गई है. लॉकडाउन के कारण अनेक लोग बेरोजगार हो गए हैं. एेसे में कारोबारियों को फिर से उबारने, धीरज देने की आवश्यकता है.लॉकडाउन के दरम्यान का बिजली बिल माफ करना आवश्यक था, वह करना तो दूर लोगों को महंगी दरों का बिजली बिल देकर लोगों की परेशानी बढ़ाई जा रही है.

बढ़े बिजली बिलों को माफ करने की मांग

बिजली वितरण कंपनी द्वारा लॉकडाउन के दरम्यान का लघु उद्योग,खेती व आम आदमी का बिजली बिल माफ करने की मांग को लेकर लोक क्रांति सेना शिंदखेडा शाखा की ओर से लोक संस्थापक अध्यक्ष देवेंद्र पाटील की प्रमुख उपस्थिति में लोक क्रांति सेना के उपनेता पूर्व  पं.स.सदस्य प्रकाश चौधरी के हाथों बिजली बिल की होली जलाई गई. इसके बाद एक ज्ञापन तहसीलदार शिंदखेडा को दिया गया.

इस अवसर पर रुपेश चौधरी,लोक क्रांति युवा सेना शिंदखेडा तालुकाध्यक्ष किरण मोरे,लोटन मराठे,रमेश चौधरी,विलास मराठे,गौतम पाटोले,योगेश सोनवणे,दीपक चौधरी,सागर चौधरी,महेंद्र मराठे सहित अन्य पदाधिकारी व क्रांति सैनिक उपस्थित थे.