Raj-Patil meeting, signs of alliance between BJP and MNS

    नाशिक. आखिर भाजपा (BJP) ने मनसे (MNS) के साथ गठबंधन (Alliance)  के लिए एक कदम आगे बढ़ा लिया है । नाशिक (Nashik) के दौरे पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष (BJP State President) चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) और मनसे अध्यक्ष (MNS President) राज ठाकरे (Raj Thackeray) की मुलाकात दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन का संकेत है।

    नाशिक वर्षों से लगातार राजनीति का एक महत्वपूर्ण केंद्र रहा है और आगे भी रहने की संभावना है, एैसा माना जा रहा है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल पिछले 2 दिनों से नाशिक के दौरे पर हैं, जबकि मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे शुक्रवार शाम से नाशिक के दौरे पर हैं। संयोग से दोनों एक ही जगह सरकारी विश्राम गृह में रह रहे है। इन दोनों राजनीतिक दलों के नेताओं ने नाशिक में आगामी महानगरपालिका जिला परिषद पंचायत समिति चुनाव के मद्देनजर पार्टी संगठन को मजबूत करने के साथ-साथ पार्टी कार्यकर्ताओं की मानसिकता को जानने के मुद्दों पर चर्चा की। इन दोनों नेताओं का मुख्य मकसद भविष्य में दोनों पार्टियों का गटबंधन करना हो सकता है।

    नाशिक के दौरे पर चंद्रकांत पाटिल ने साफ संकेत दे दिया था कि अगर उन्हें समय मिला तो वह राज ठाकरे से मिलेंगे। संयोग से, जब मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे अपने अगले कार्यक्रम के लिए जा रहे थे, अचानक भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल सरकारी विश्राम गृह पहुंचे और दोनों ने मुलाकात की और सरकारी विश्राम गृह में चर्चा की। हालांकि दोनों नेताओं ने बैठक के ब्योरे का खुलासा नहीं किया है, लेकिन निकट भविष्य में भाजपा-मनसे गठबंधन की संभावना स्पष्ट हो गई है, राजनीतिक विशेषज्ञों का कहना है कि नाशिक में मनसे-भाजपा गठबंधन की शुरुआत हो गई है।