Selfie Attendence

    नाशिक. नाशिक महानगर पालिका आयुक्त (Nashik Metropolitan Municipality Commissioner) कैलास जाधव (Kailash Jadhav) ने सेल्फी हाजरी (Selfie Attendance) करने के आदेश देने के बाद भी उसे कार्यान्वित न करने की बात सामने आई है। इसलिए सेल्फी हजेरी न होने वाले अधिकारी-कर्मचारियों का अगस्त माह से वेतन अदा न करने की सूचना आयुक्त कैलास जाधव ने प्रशासन उपायुक्त सहित सूचना और तकनिक विभाग को दी। जिसके  चलते कर्मचारियों के सामने अब सेल्फी हाजरी  देनी होगी।

    कोरोना संक्रमण बढ़ने के बाद राज्य सरकार की सूचनाओं के तहत महानगरपालिका  प्रशासन ने बायोमेट्रिक हाजरी सहित सेल्फी हाजरी पद्धत बंद की थी। सेल्फी हाजरी बंद करने के बाद प्रशासन ने केवल 25 प्रतिशत कर्मचारियों को ही महानगरपालिका  में हाजरी लगने का आदेश जारी किया।  इसके चलते मुख्यालय सहित 6 विभागीय कार्यालय में 25 प्रतिशत हाजरी का नियम लागू किया था। आज भी बायोमेट्रिक सहित सेल्फी हाजरी पद्धत बंद थी, परंतु कोरोना संक्रमण कम होने से राज्य सरकार ने कामकाज पूर्ववत करने की सूचना दी। इसके चलते महानगरपालिका  में भी पूर्ववत कामकाज की सूचना महानगरपालिका  आयुक्त जाधव ने दी। इसके बाद बायोमेट्रिक हाजरी और सेल्फी हाजरी लागू करने के आदेश जारी किया गया, परंतु उसका कार्यान्वयन नहीं हुआ।

    महानगरपालिका  के निर्माण, आरोग्य, उद्यान और साइट विजिट करने वाले अभियंता, उप अभियंता और अन्य कर्मचारियों से सेल्फी अटेंडन्स रिपोर्ट प्राप्त न होने की शिकायत मिल रही है। इसलिए सेल्फी हाजरी न देने वालों का वेतन अगस्त माह से अदा न करने की सूचना आयुक्त ने सूचना और  तकनिक विभाग को दी।