सरपंच और अधेड़ महिला में हुई हाथापाई

  • दीवार को लेकर ग्रामीणों में विवाद
  • मामला पुलिस थाने पहुंचा

साक्री. तहसील के ग्राम पेरेजपुर में दो ग्रामीणों के परिवार में दीवार निर्माण को लेकर हुए विवाद में सुलह कराने आए सरपंच और विवाद कर रहे एक परिवार में हाथापाई हो गई. परिवार की महिला ने आरोप लगाया है कि सरपंच ने उसके साथ मारपीट की तथा सरपंच की ओर से बचाव में कहा गया कि महिला ने पहले उनसे मारपीट की. दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के विरोध में पुलिस में मामला दर्ज कराया है.  ‘अधेड़ उम्र की महिला को सरपंच ने मारा और महिला ने सरपंच पर हाथ उठाया’ के झगड़े की चर्चा का विषय पूरी तहसील में दिनभर गरमाया रहा. सरपंच के समर्थन में पेरेजपुर गांव की महिलाएं बड़ी संख्या में पुलिस स्टेशन पहुंचीं और आवेदन भी दिया.

शांत होने की बजाय बढ़ता गया विवाद

विगत कुछ दिनों से हो रही वर्षा के कारण पेरेजपुर में हेमंत शेवाले के घर की मिट्टी की दीवार कमजोर हो गई थी. उसे गिरा कर नई दीवार का निर्माण किया जाना था. पड़ोसी गुलाबराव अहिरे(65) तथा उनकी पत्नी विमलबाई (60)और पुत्र राहुल अहिरे ने इस निर्माण पर आपत्ति जताई. हेमंत शेवाले(43) ने सरपंच मनोज देसले को फोन कर के शिकायत की. सरपंच देसले घटनास्थल पर पहुंचे. दोनों पक्षों में विवाद चल रहा था. सरपंच ने दोनों को समझाने की कोशिश की. किंतु विवाद बढ़ता गया. तू तू-मैं मैं  का विवाद गालीगलौज और एक-दूसरे पर हमले तक पहुंचा. इसी बीच विमलबाई अहिरे व सरपंच मनोज देसले में मारपीट हो गई. सभी ग्रामवासी उस समय मौजूद थे.

बताया जा रहा है कि अहिरे परिवार को ग्राम पंचायत की ओर से सरकारी जमीन पर अतिक्रमण नहीं करने की नोटिस दी गई थी, पंचायत समिति में भी शिकायत की गई थी. जिसको लेकर सरपंच देसले और अहिरे परिवार के बीच पहले से विवाद चल रहा था. अभी हुए झगड़े की जड़ में पूर्व विवाद की भी भूमिका है.

सरपंच के पक्ष में थाने पहुंचीं महिलाएं

सरपंच मनोज देसले के समर्थन में पेरेजपुर के ग्रामवासी और महिलाएं पुलिस स्टेशन पहुंची तथा सरपंच को बेकसूर बताया. सरपंच के साथ पुलिस स्टेशन पहुंचे ग्रामीणों ने पुलिस निरीक्षक नितिन देशमुख को अपने दस्तखतों का आवेदन सौंपा. पुलिस ने दोनों पक्षों की शिकायतें दर्ज कर ली हैं.मनोज देसले लोकनियुक्त  सरपंच चुने गए हैं, तथा भाजपा से जुड़े हुए हैं. जिसके चलते उक्त घटना का राजनीतिकरण भी किये जाने की चर्चा भी लोगों में है. दूसरी ओर, नारीवादी संगठनों ने मनोज देसले द्वारा अधेड़ उम्र की महिला से मारपीट करने की घोर निंदा की है.

एक-दूसरे के खिलाफ की शिकायत

विमलबाई ने पड़ोसी हेमंत शेवाले के परिवार और सरपंच मनोज देसले के खिलाफ पुलिस में रपट दर्ज कराई है. वहीं हेमंत शेवाले की पत्नी पूनम शेवाले (39) तथा सरपंच मनोज देसले ने गुलाबराव अहिरे, उनकी पत्नी विमलबाई और पुत्र राहुल के खिलाफ अलग-अलग  मामले दर्ज किए हैं. हवलदार नागेश्वर सोनवणे मामले की जांच कर रहे हैं.