File Photo
File Photo

    साक्री. साक्री तहसील (Sakri Tehsil) क्षेत्र में कोरोना (Corona) बेकाबू होने के चलते शहर में विगत हफ्ते से औसत 50 कोरोना पॉजिटिव मरीज (Corona Positive Patient) हर दिन पाए जा रहे हैं। वहीं, नेशनल हाइवे पर शहर से 5 किमी दूरी पर स्थित छोटा सा गांव शेवाली (Shewali) बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। यहां अब तक 20 से ज्यादा पॉजिटिव मरीजों की मौत (Death) हो गई है । 

    अभी भी बड़ी संख्या में कोरोना की चपेट में आए लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। कइयों को वेंटीलेटर पर रखा गया है और  इलाज चल रहा है। एक ही परिवार के 4 सदस्यों की मौत कोरोना के कारण शेवाली में हो गई है। गांवों से लेकर तहसील के शहरनुमा बड़े गांवो में कोरोना से होने वाली जनहानि का भारी खौफ पसरा हुआ है। विगत महीने तहसील के कई इलाकों में अंत्येष्टियों से लेकर शादियां और सामाजिक जमघट के कार्यक्रम बड़े जोर-शोर से हुए। बताया जा रहा है कि एक कार्यक्रम में कोरोना के संक्रमित लोगों ने पहले स्वयं और बाद में दूसरों को संक्रमित किया। 

    निजी अस्पतालों में जुट रही मरीजों की भारी भीड़

    शहर में सभी डॉक्टरों के अस्पताल में भारी भीड़ का दृश्य नजर आ रहा है। कल तक कोरोना जैसे लक्षण वालों को अपने अस्पताल में खड़े नहीं करने वाले डॉक्टरों के अस्पतालों में अभी खूब आमदनी इन्हीं मरीजों से हो रही है। बताया जा रहा है कि कोरोना जैसे लक्षणों पर डॉक्टरों को इलाज का नुस्खा मिल गया है और वह सफल भी रहा है। इसीलिए ज्यादातर मरीज सबसे पहले निजी डॉक्टरों की शरण में जा रहे हैं।

    आला अधिकारियों ने की बैठक

    डीएम संजय यादव ने साक्री तहसील में बैठक का आयोजन किया था। जिला परिषद की सीईओ वानमथि सी., डिप्टी डीएम भीमराज दराडे से लेकर स्वास्थ्य विभाग के डॉ. सांगले तथा सभी विभाग के आला अफसर उक्त बैठक में मौजूद थे। डीएम यादव ने कोरोना के प्रकोप की रोकथाम पर कई निर्देश दिए।

    व्यवस्था को लेकर डीएम यादव ने जताई नाराजगी

    निर्देशों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के भी आदेश दिए। डीएम यादव ने शहर स्थित कोविड-19 सेंटर की अव्यवस्था पर भी नाराजगी जताई। इसके परिणामस्वरूप कोविड सेंटर फिर से नियमित हो गए हैं। जो शहर के लोगों के लिए बड़ी राहत की बात है। अभी पीएचसी (प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र) में स्वैब द्वारा आरटीपीसीआर और एंटीजेन के सैंपल लिए जाने लगे हैं। इसी के चलते ज्यादा टेस्ट होने लगे हैं और ज्यादा मरीजों को सुविधा मिलने लगी है। साक्री शहर में भी सोमवार को कोरोना से 2 मौतें होने की खबर है। इन मरीजों को सरकारी बड़े कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जिस विवाहित महिला की मौत हुई है, उसके परिवार में 4 सदस्य भी कोरोना की चपेट में आकर गंभीर स्थिति में हैं।