Shivsampark of Shivsena and contact campaign of Nationalist Congress Party

    नाशिक. मुख्यमंत्री (Chief Minister) उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) द्वारा दिए गए आदेश के बाद राज्य सहित नाशिक जिले में शिवसेना (Shiv Sena) की ओर से शिवसंपर्क अभियान (Shivsampark Abhiyan) कार्यान्वित किया गया है। ऐसे में राष्ट्रवादी कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष (Nationalist Congress State President) जयंत पाटिल (Jayant Patil) द्वारा दिए गए आदेश के बाद राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस ने भी नाशिक जिले में संपर्क अभियान शुरू किया है। परिणाम स्वरूप दोनों राजनीतिक दलों ने संपर्क बढ़ाकर पार्टी संगठन मजबूत करने के लिए एक-दुसरे के आमने-सामने आ गए है। कुल मिलाकर सत्ता स्वाद लेने के लिए एक साथ होने वाले दोनों राजनीतिक दल पार्टी संगठन मजबूत करने के लिए एक-दुसरे के सामने सीना तान कर खड़े हो गए है।

    गौरतलब है कि, राज्य सरकार के माध्यम से किए गए जनहित के कार्य और सरकारी योजनाओं की जानकारी आम नागरिकों तक पहुंचाने के उद्देश से शिवसेना ने नाशिक जिले में शिवसंपर्क अभियान शुरू किया है। जिला प्रमुख, गट, गण, शाखा प्रमुख, विधानसभा प्रमुख, जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्य, सरपंच इस शिवसंपर्क अभियान में शामिल हुए है।  गाँव-गाँव में शिवसंपर्क अभियान कार्यान्वित किया जा रहा है। ऐसे में आगामी स्थानिक स्वराज्य संस्था के चुनाव निमित्त राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस ने भी संपर्क अभियान शुरू कर जिले में पार्टी को सक्रीय करने का प्रयास शुरू किया है। परिणाम स्वरूप दोनों पार्टी के कार्यकर्ताओं की नींद खुल गई है। 

    राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस की ओर से नियुक्ति पत्र

    जिलाध्यक्ष पुरुषोत्तम कडलग के मार्गदर्शन में तहसील अध्यक्ष गणेश गायधनी ने लगातार तीन दिवस संपर्क अभियान कार्यान्वित किया, जिसमें राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस ने अपने कार्यकर्ताओं को नियुक्ति पत्र देकर संगठन मजबूत करने का प्रयास किया। पलसे गट के शिलापुर, ओढा, लाखलगाव, सिद्धपिंपरी, विंचूर गवली, हिंगणवेढा, जाखोरी, चांदगिरी, गंगा पाडली, शिंदे और पलसे तो गोवर्धन गट के महिरावणी, दुडगाव, तलेगांव, पिंपलगांव गरुडेश्वर, शिवणगांव और गणेशगांव, गिरणारे गट, के गिरणारे, नागलवाडी, साडगाव, देवरगाव, गंगा म्हालुंगी, शास्त्रीनगर और मुंगसरा आदि गाँव में संपर्क अभियान कार्यान्वित कर शिवसेना को करारी टक्कर दी।