ग्रामीण इलाकों में सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ा पालन

मालेगांव. तहसील के पाटना में 3 नए कोरोना बाधित मरीज़ों के सामने आने से गांव में मरीज़ों की संख्या बढ़कर 5 हो गई है. पाटना ग्राम पंचायत की ओर से गांव में नागरिकों को सावधान रहने की घोषणा की जा रही है. पाटना के त्रिमूर्ति चौक की निवासी एक 32 वर्षीय महिला, जो गांव छोड़कर कुछ दिनों के लिए मालवाडी गई थी और जब वहां से लौटी तो बीमार होने पर उसकी जांच करने पर उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई. उसके साथ ही उसके दोनों 11 और 13 वर्षीय बच्चों की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई. 

एक ही परिवार के 3 लोग मिले कोरोना पॉजिटिव

तीनों को देवला के कोविड सेंटर में उपचार के लिए दाखिल किया गया है. बाधित मरीज़ों के परिवार के अन्य 3 लोगों के स्वैब के नमूने जांच के लिए रवाना किए गए हैं. तब तक सभी को देवला के क्वारंटाइन केंद्र में रखा गया है. पाटना जैसे छोटे ग्रामीण इलाके में भी रोज मरीज़ों की संख्या के बढ़ने से यहां के निवासी सावधानी बरतें, ऐसा आह्वान ग्राम पंचायत की ओर से किया जा रहा है. मास्क का उपयोग, सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ा पालन, सेनेटाइजर का उपयोग और नियमित हाथों को धोने की जरूरत है. ऐसा आह्वान पूर्व सरपंच सुभाष अहिरे, संदेश खैरनार, तुषार वाघ, स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सारिका मेरगड, डॉ. नीरज बच्छाव, स्वास्थ्य सेविका सुरेखा देवरे, अरुण पाटिल, नाना निकम, आशा सेविका मनीषा त्रिभुवन, जयश्री विखे, कविता खैरनार, वैशाली बागुल ने किया है.