Suspend electricity engineer, angry farmers demand

    दिंडोरी. बिजली वितरण कंपनी के एक कनिष्ठ अभियंता द्वारा मड़कीजाम में एक किसान (Farmer) को अपमानित करने और मारपीट करने की धमकी (Threats) देने का ऑडियो क्लिप (Audio Clip) के बाद किसानों ने नाराजगी व्यक्त की है। बिजली बोर्ड के कार्यकारी अभियंता के निलंबित (Suspended) करने की मांग को लेकर गांव के किसानों ने रास्ता जाम (Road Jam) कर दिया। पूरे साढ़े तीन घंटे बाद आंदोलन को अस्थायी रूप से स्थगित कर दिया गया।  विभाग ने संबंधित अभियंता को छुट्टी पर भेज कर मामले को ठंडा किया।

    किसानों ने मांग की हैं कि जांच के बाद दो दिनों में अभियंता को निलंबित नहीं किया गया तो आंदोलन तेज कर दिया जाएगा। मड़कीजाम के किसान भास्कर बोराडे़ ने आरोप लगाया कि बिजली बिल भरने के बाद उसने अभियंता बोरकर को फोन किया तो उसने उसे गालियां दी और मारने की धमकी भी दी। साथ ही फोन पर हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग वायरल होने के बाद किसान आक्रोशित हो गये। 

    पालखेड़ चौराहे पर लगाया जाम 

    किसानों ने दिंडोरी रास्ते पर जमा होकर पालखेड़ चौराहे पर जाम लगा दिया। साथ ही बिजली विभाग से यह मांग की कि अभियंता बोरकर को जल्द से जल्द निलंबित करें।

     छुट्टी पर भेजा गया अभियंता

    तहसीलदार पंकज पवार ने आंदोलकारियों से मुलाकात की और आंदोलन खत्म करने की विनंती की, लेकिन आंदोलनकारियों की मांग थी कि जब तक बिजली मंडल के सक्षम अधिकारी आकर उस अधिकारी को निलंबित नहीं करते तब तक रास्ता रोको आंदोलन जारी रहेगा। इसके बाद कार्यकारी अभियंता राजाराम डोंगरे, अधीक्षक अभियंता प्रवीण दरोली, उपअभियंता राऊत ने आंदोलनकारियों से मुलाकात की और आश्वासन दिया कि उस अधिकारी को छुट्टी पर भेज कर उसकी जांच करके उसे निलंबित करेंगे। जब जाकर आंदोलनकर्ता किसानों ने अपना आंदोलन रोक दिया।

    आंदोलन में ये लोग रहे शामिल

    आंदोलन में शिवसेना नेता प्रवीण जाधव, स्वाभिमानी किसान संघटना के प्रदेशाध्यक्ष संदीप जगताप, राष्ट्रवादी के नेता प्रकाश वडजे, भाजपा तहसील अध्यक्ष नरेंद्र जाधव, शिवसेना के तहसील प्रमुख पांडुरंग गणोरे, जिला उप प्रमुख कैलाश पाटील, संतोष मुरकुटे, बाजार समिति उपसभापति अनिल देशमुख, कांग्रेस नेता प्रीतम देशमुख, राष्ट्रवादी के तहसील अध्यक्ष भास्कर भगरे, राजेंद्र उफाडे, गंगाधर निखाडे, डॉ। योगेश गोसावी, सचिन देशमुख, शाम हिरे, नगरसेवक प्रमोद देशमुख, राकेश शिंदे, प्रमोद मुलाने, तुकाराम जोंधले, निलेश शिंदे, लखन पिंगल, गोटीराम जगताप, विनायक शिंदे, नितीन आव्हाड, प्रभाकर वडजे, प्रकाश आहेर , विजय वडजे आदि उपस्थित रहे।