The government is not talking about development, the entire government including the Chief Minister

    धुलिया. राज्य के विकास के मुद्दों (Development Issues) पर सरकार मुंह खोलने को तैयार नहीं है। इसलिए राष्ट्रीयवादी कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष (Nationalist Congress Party President) शरद पवार (Sharad Pawar) को मुख्यमंत्री (Chief Minister) समेत पूरी सरकार को प्रशिक्षित करने की जरूरत है।सरकार यह कहने में बेईमानी कर रही है कि तीनों दल अपनी-अपनी भाषा का प्रयोग कर अलग-अलग बयानबाजी कर रहे है। जनता को धोखा देने वाली सरकार का बदला लेने के लिए हम राज्य के 25 लाख युवा योद्धाओं को भाजपा से जोड़ रहे है। उन युवाओं का केवल राजनीति के लिए उपयोग नहीं किया जाएगा ब्लकि उन्हें राज्य सरकार के विरुद्ध खड़े रहने के लिए निर्देश दिए जाएंगे।
     
    राज्य सरकार पर तीखा हमला करने वाले पूर्व मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने यह कहते हुए सरकार की आलोचना की। पूर्व ऊर्जा मंत्री और बीजेपी के महाराष्ट्र प्रभारी चंद्रशेखर बावनकुले और बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत पाटिल धुलिया जिले के दौरे पर है। भाजपा के बबनराव चौधरी, महानगर जिलाध्यक्ष अनूप अग्रवाल, ग्रामीण जिलाध्यक्ष नारायण पाटिल, मेयर चंद्रकांत सोनार, यशवंत येवलेकर, भाजपा के रोहित चंडोडे,अनिकेत पाटिल भी दौरे में मौजूद थे। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में बावनकुले ने कहा कि महाविकास अघाड़ी सरकार को लोगों की परवाह नहीं है। जनता की समस्याओं का समाधान करने में वे असफल रहे है। सरकार में तीन दल दिन भर अलग-अलग बयानबाजी कर रहे है। बावनकुले ने पूछा कि क्या इसी लिए सरकार को चुना गया है ?
     
     
    सरकार ने संजय गांधी निराधार योजना समेत कई कल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया है। मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना बंद है। रोजगार गारंटी योजना का भी यही हाल है। पांच साल में जब फडणवीस मुख्यमंत्री थे, हमने किसी किसान की बिजली नहीं काटी। करोड़ों का बिजली बिल होने के बावजूद उन्होंने किसानों के प्रति सहानुभूतिपूर्वक विचार किया गठबंधन सरकार बारिश के मौसम में किसानों की बिजली काट रही है। किसान फसल बीमा योजना का इंतजार कर रहे है। जहां ग्रामीण क्षेत्रों में स्ट्रीट लाइट के लिए बिजली बिल का भुगतान राज्य सरकार की जिम्मेदारी है, वहीं केंद्र के 15वें वित्त आयोग से बिजली बिल का भुगतान करने के लिए ग्राम पंचायतों को अध्यादेश जारी कर रहे है। पूर्व मंत्री बावनकुले ने आगे कहा कि राज्य में 97 हजार 646 मतदान केंद्र है।
     
     
    बीजेपी अध्यक्ष विक्रांत पाटिल ने दिसंबर से पहले इस मतदान केंद्र पर 25 लाख युवा योद्धा बनाने की योजना बनाई है। इसके लिए हम आठ दिन उत्तर महाराष्ट्र में काम करेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के नेतृत्व में स्वास्थ्य समस्याओं से निपटने के लिए एक वार्ड में 25 युवा योद्धा और एक स्वास्थ्य योद्धा उपलब्ध रहेगा। तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए स्वास्थ्य योद्धा की रणनीति तैयार की गई है। सरकार बनाने में 18 से 25 साल के युवाओं की अहम भूमिका होती है। वह सामाजिक और सांस्कृतिक आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए काम करेंगे। इसलिए भविष्य में युवाओं की भूमिका अहम होगी। इसके लिए प्रदेश भर में युवा योद्धाओं का पंजीयन किया जा रहा है। सोमवार को नाशिक में भाजपा की 22 शाखाओं का उद्घाटन किया गया। सटाणा और मुस्लिम मोहल्लों में शाखा का उद्घाटन किया गया। उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी की भूमिका सभी जातियों और धर्मों को अपने साथ ले कर चलने की है।

    युवाओं को देंगे सही दिशा 

    राज्य सरकार से भारी निराशा है। यह सरकार छात्रों और युवाओं के मुद्दों पर ध्यान नहीं देती है। इसलिए हम इस सरकार को चैन की नींद नहीं सोने देंगे, बीजेपी अध्यक्ष विक्रांत पाटिल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चेताया। युवा मोर्चा के माध्यम से 18 से 25 वर्ष आयु वर्ग के युवाओं को जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। समाज में युवाओं का विशेष स्थान है। यह युवा विपुल है। युवाओं की अपनी राय है। वह लोकतंत्र और राजनीति को आशा की नजर से देखते है। लेकिन वह अपनी राय व्यक्त करने के लिए किसी से नहीं मिल सकते। ऐसे में युवा परेशान होते है और सोशल मीडिया पर आलोचना करता हैं। उसी से यह युवा निगेटिव हो जाता है। यदि यह युवा नकारात्मक हो जाता है तो यह देश के उज्ज्वल भविष्य के लिए अच्छा नहीं है। इसलिए इन युवाओं को नकारात्मकता से दूर रखना चाहिए, उनसे बातचीत करना, उनसे जुड़ना, उनके पसंदीदा विषयों को लेना चाहिए और उन्हें सही दिशा देनी चाहिए और उन्हें इस व्यवस्था का हिस्सा बनाना चाहिए। लोकतंत्र और राजनीति में भी उनकी एक अलग पहचान है। अगर अच्छे युवा राजनीति में आएंगे तो इस राजनीति की गलत व्याख्या में सुधार आएगा। इसके लिए यंग वॉरियर्स का गठन किया जा रहा है। इसके लिए दौरे किए जा रहे हैं। प्रत्येक गाँव में ग्राम स्तर और नगर वार्ड स्तर पर युवा योद्धाओं की एक शाखा होगी। आने वाले समय में हम पूरे महाराष्ट्र में 25 लाख युवा योद्धा बनाएंगे, विक्रांत पाटिल ने भी स्पष्ट किया।