Tourist places still 'locked', tourists being returned

    इगतपुरी. मानसून की शुरुआत के साथ राज्य में प्रमुख पर्यटन स्थल इगतपुरी तहसील (Igatpuri Tehsil) पर्यटकों को आकर्षित करता है। इगतपुरी तहसील में पहाड़, बांध, किले और झरनों पर पर्यटकों (Tourists) का आवागमन शुरू हो जाता है। यहां आने वाले नाशिक (Nashik), ठाणे (Thane), अहमदनगर (Ahmednagar), मुंबई (Mumbai) के पर्यटकों की संख्या महत्वपूर्ण है। लॉकडाउन (Lockdown) के बाद घर में बैठे–बैठे बोर हो गए बच्चों के साथ पर्यटन स्थलों पर निकले कार चालकों को यहां का मौसम पसंद आता है। 

    वैतरणा बांध की ओर और हरिहर किला इन जगहों पर इन दिनों प्रवेश बंदी होने से अनेक पर्यटकों को वापस लौटना पड़ रहा है, जिससे पर्यटक निराश हो रहे हैं।

    पर्यटन पर निर्धारित व्यवसायों की स्थिति बिगड़ी

    पर्यटन स्थलों की ओर जाने वाले रास्तों को पुलिस ने बंद कर दिया है क्योंकि प्रशासन ने कोरोना की स्थिति के कारण पर्यटन स्थलों पर प्रतिबंध लगा दिया है। भावली बांध की ओर जाने वाले मार्ग, घाटनदेवी से अशोक जलप्रपात, कसारा घाट, घाटनदेवी क्षेत्र को पुलिस ने बंद कर दिया है और कई पर्यटक वाहनों को वापस भेजा जा रहा है। पिछले डेढ़ साल में लॉकडाउन ने कई जगहों पर पर्यटन पर प्रतिबंध लगा दिया है, जिसमें पर्यटन आधारित और आश्रित व्यवसायों और रोजगार पर बड़े पैमाने पर प्रभाव पड़ा है, यहां पर्यटन पर निर्धारित व्यावसायिकों की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई है। आदिवासी परिवारों पर तो भूखे रहने का समय आ गया है।