corona

  • मंत्री सहित बड़े अधिकारी क्वारंटाइन

नाशिक. स्वीय सहायक सहित वाहन चालक के कोरोना पॉजिटिव होने से आदिवासी विकास मंत्री के. सी. पाडवी ने नाशिक में खुद को होम क्वारंटाइन कर लिया है. मंत्री के संपर्क में आने के बाद आदिवासी आयुक्त व आदिवासी विकास महामंडल के कार्यकारी संचालक (एमडी) ने भी खुद को होम क्वारंटाइन कर लिया है. राज्य मंत्रिमंडल के अनेक मंत्री अब तक कोरोना से संक्रमित हुए हैं. इसमें जितेंद्र आव्हाड, धनन्जय मुंडे, एकनाथ शिंदे, बालासाहब पाटिल, उदय सामंत, अशोक चव्हाण, वर्षा गायकवाड़, नितीन राऊत, सुनील केदार, अब्दुल सत्तार, हसन मुश्रीफ, विश्वजीत कदम सहित विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले, उपाध्यक्ष नरहरी झिरवाल शामिल हैं.

आदिवासी विकास विभाग का चित्र अलग है. मंत्री पाडवी के मुंबई स्थित दो स्वीय सहायकों के कोरोना पॉजिटिव होने के कारण मंत्रालय के विभाग का कामकाज ठप्प हो गया है. जब 5 स्वीय सहायक के पॉजिटिव आने से पाडवी की दो दिन पूर्व कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आई. लेकिन नंदुरबार से जिस वाहन से पाडवी नाशिक पहुंचे, उस गाड़ी का चालक पॉजिटिव निकला. इसके बाद पाडवी ने खुद को होम क्वारंटाइन कर लिया. उन्होंने किसी भी व्यक्ति को मिलने के लिए नहीं आने की अपील की.

कोरोना संक्रमण के कोई लक्षण नहीं

कोरोना पीड़ित मरीज के संपर्क में आने से मैंने खुद को होम क्वारंटाइन कर लिया है. कोरोना संक्रमण के कोई लक्षण नहीं हैं, लेकिन सावधानी के रूप में कोई भी व्यक्ति मिलने न आए. इससे पूर्व जो लोग संपर्क में आए हैं, वह अपनी कोविड जांच कर लें.

-के. सी. पाडवी, आदिवासी विकास मंत्री