Wadia, Ali Akbar hospitals will be newly constructed, grants approved for new buildings

    मालेगांव. महानगरपालिका के वाडिया (Wadia) और अली अकबर अस्पताल (Ali Akbar Hospital) भवनों के नवीनीकरण (Upgrade) कार्य को तकनीकी स्वीकृति मिल गई है। इन दोनों अस्पतालों के 3 मंजिला भवनों का निर्माण 14 और 15वें वित्त आयोग की धनराशि से किया जाएगा। इसमें 100 बेड (Beds) और अन्य स्वास्थ्य सुविधाएं शामिल हैं। 

    महापौर ताहेरा शेख, आयुक्त भालचंद्र गोसावी, पूर्व विधायक राशिद शेख ने मंगलवार को भूमि का निरीक्षण कर अधिकारियों को निर्देश दिए। शहर में वाडिया और अली अकबर अस्पताल कई वर्षों से संचालित हैं। बढ़ती आबादी के कारण अस्पतालों में बेडों की संख्या कम पड़ रही है। नागरिकों को स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

    महापौर ने किया अस्पताल परिसर का निरीक्षण

    कोविड के प्रकोप को देखते हुए महानगरपालिका प्रशासन लोगों को तत्काल स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए कदम उठा रहा है। इस संबंध में वाडिया एवं अली अकबर अस्पताल के पुराने भवनों के स्थल पर विशाल भवनों के निर्माण के लिए तकनीकी स्वीकृति प्रदान की गयी। प्रशासनिक स्वीकृति से कार्य के लिए निविदा जारी करने की प्रक्रिया शीघ्र ही प्रारंभ की जायेगी। कमिश्नर गोसावी ने प्रशासनिक स्वीकृति देने से पहले महापौर शेख और अधिकारियों के साथ वाडिया और अली अकबर अस्पताल परिसर का निरीक्षण किया। कमिश्नर गोसावी ने कहा कि वाडिया के विस्तार के लिए आसपास की जमीन का इस्तेमाल किया जाएगा। अस्पताल के बाहर दुकानें बनाई जाएंगी। इस कार्य के लिए 14 वित्त आयोगों की निधियां आरक्षित की गई हैं। 5 करोड़ रुपये की अतिरिक्त धनराशि की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए भवनों का निर्माण 5 करोड़ रुपये की लागत से किया जाएगा।

    मरीजों को मिलेंगी बेहतर सुविधाएं

    इन नई इमारतों में महिलाओं और पुरुषों के लिए अलग-अलग वार्ड होंगे। यहां 2 ऑपरेशन थियेटर, प्रसूति वार्ड, सिजेरियन सेक्शन, असाध्य रोग के रोगियों के लिए विशेष वार्ड, चिकित्सा अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए आवास होंगे। पूर्व विधायक राशिद शेख ने कहा कि इन अस्पतालों में निजी अस्पतालों की तरह ही मरीजों का उपचार किया जाएगा।