The language used by BJP's Gaurav Bhatia for Sheeshram Ola is condemnable, JP Nadda should apologize: Ashok Gehlot
File Photo

    जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में बृहस्पतिवार को बीते चौबीस घंटे में कोरोना वायरस के संक्रमण (Coronavirus Infection) से एक भी मौत दर्ज नहीं की गई। राज्य में लंबे समय बाद ऐसा हुआ है और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने इस पर संतोष जताते हुए जनता से सावधानी बनाए रखने की अपील की है। चिकित्सा विभाग के अनुसार राज्य में बीते चौबीस घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 147 नये मामले सामने आये। वहीं इस दौरान घातक संक्रमण से किसी भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई। राज्य में इस संक्रमण से अब तक कुल 8905 लोगों की मौत हो चुकी है। राज्य में 2019 संक्रमित उपचाराधीन हैं।

    मुख्यमंत्री गहलोत ने इसका जिक्र करते हुए ट्वीट किया,‘‘आज कई महीनों के बाद प्रदेश में कोरोना के कारण कोई मृत्यु नहीं हुई है जो बेहद संतोषप्रद है।”

    गहलोत के अनुसार यदि हम सभी मास्क सहित कोविड प्रोटोकॉल का सही से पालन करें तो कोविड को हराया जा सकता है। उन्होंने कहा,‘‘सभी लोग अपनी बारी आने पर वैक्सीन भी अवश्य लगवाएं। भारत में कोरोना का एक नया रूप डेल्टा प्लस भी प्रवेश कर गया है और देश में इसके 40 से अधिक संक्रमित मिल चुके हैं। ये दूसरी लहर में फैले कोरोना के डेल्टा वैरिएंट से भी अधिक खतरनाक है, इसलिए भी अब अतिरिक्त सावधानी की आवश्यकता है।”

    इसके साथ ही गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की उस बात को प्रासंगिक बताया है कि कांग्रेस को सभी का टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए सक्रिय भूमिका निभानी चाहिए। गहलोत के अनसार हमें पर्याप्त संख्या में टीके उपलब्ध करवाने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव बनाए रखना होगा। (एजेंसी)