अमरिंदर सिंह ने सोनिया गांधी को लिखा पत्र, कहा- केंद्रीय नेतृत्व जबरन दे रहा दखल

    चंडीगढ़: पंजाब कांग्रेस में शुरू रार ख़त्म होने के बजाय लगातार बढ़ती जारही है। नवजोत सिंह सिद्धू को राज्य कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने की ख़बर से कैप्टन अमरिंदर सिंह केंद्रीय नेतृत्व से नाराज हो गए हैं। इसी नाराजगी के बीच कैप्टन ने पार्टी की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिख पर अपनी नाराजगी जताते हुए कहा कि, आलाकमान जबरन पंजाब सरकार और राजनीति में दखल दे रहा है।”

    अमरिंदर ने अपने पत्र में कहा, “पंजाब की राजनीति पूरी तरह अलग है। मौजूदा हालात ऐसे नहीं है कि, जो किया जा रहा वो हो। अगर कुछ यहां किया गया तो पार्टी के साथ-साथ सरकार को भी नुकसान उठाना पड़ सकता है।”

    कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री ने पत्र में इस बात का उल्लेख किया है कि पुराने नेताओं की उपेक्षा करने का आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत की संभावना पर विपरीत असर हो सकता है। उन्होंने यह पत्र ऐसे समय लिखा है जब ऐसी चर्चा है कि कांग्रेस आलाकमान सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष और कोई अन्य महत्वपूर्ण भूमिका दे सकता है। 

    हरीश रावत जाएंगे चंडीगढ़ 

    पंजाब कांग्रेस में घमासान खत्म करने की कोशिशों के बीच पार्टी के प्रदेश इकाई प्रभारी महासचिव हरीश रावत कल चंडीगढ़ जाएंगे, सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह से मुलाकात।