मंत्री रामसूरत राय का तेजस्वी यादव पर बड़ा हमाल, पूछा- लालू जी जेल में हैं, देंगे इस्तीफा? 

    पटना: बिहार सरकार (Bihar Government) में मंत्री रामसूरत राय (Minister Ramsurat Ray) के भाई के स्कूल में शराब मिलने का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। राष्ट्रीय जनता दल (Rashtriya Janta Dal) इसको लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) और सरकार पर हमलावर हैं, साथ ही मंत्री से इस्तीफा लेने की लगातार मांग कर रहे हैं। खुद पर लग रहे आरोपों पर मंत्री राय ने शनिवार को जवाब दिया। इसी दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejasvi Yadav) पर बड़ा हमला बोलते हुए पूछा कि, “लालूजी प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) भ्रष्टाचार (Corruption) के मामले में जेल में हैं, तो क्या वह देंगे इस्तीफा?”

    राजधानी पटना में आयोजित प्रेस वार्ता में रामसूरत ने कहा, “मेरे भाई के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए अगर वह जांच में दोषी पाया जाता है और उसे जेल भेजा जाना चाहिए। मुझे कोई आपत्ति नहीं है। लेकिन इसमें मैं कहां गलत हूं?”

    तेजस्वी यादव पर हमला पर हमला बोलते हुए मंत्री राय ने कहा, “मैं पूछना चाहता हूं कि क्या तेजस्वी जी – क्या वह इस्तीफा देंगे क्योंकि उनके पिता जेल में हैं? तेजस्वी यादव के खिलाफ मामले दर्ज होने पर तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) को इस्तीफा देना चाहिए?”

    इस्तीफे को लेकर आरजेडी ने निकला मोर्चा 

    तेजस्वी यादव रामसूरत को लेकर लगातार सरकार पर हमलावर हैं। इसी को लेकर उन्होंने आज अपने विधायकों को लेकर विधानसभा में मोर्चा निकला। इसी दौरान पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, “”सरकार विधानसभा में हमारी बात नहीं रखने दे रही है और अपराधियों को संरक्षण दे रही है। विधानसभा JDU और BJP  का दफ्तर हो गया है।”

     
    उन्होंने आगे कहा, “मंत्री रामसूरत राय के खिलाफ सबूत होने के बाद भी उसे रखने नहीं दिया गया। मंत्री ठीक से उत्तर नहीं दे रहे हैं और झूठ बोल रहे हैं। हमने राज्यपाल से मुलाकात की है और इस सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है। अभी हम विधानसभा जाएंगे और वहां अपनी बात पूरी करेंगे।”
     

    क्या है मामला? 

    पिछले दिनों मुजफ्फरपुर जिले के अहियापुर थाना क्षेत्र के एक स्कूल में पुलिस को शराब बरामद हुई थी। जांच में पता चला की यह स्कूल जीस जमीन पर यह स्कूल बनी है उसका मालिकाना हक नीतीश सरकार में मंत्री रामसूरत राय के छोटे भाई के नाम पर है। वहीं स्कूल का नाम भी मंत्री के पिता अर्जुन राय के नाम पर है।