Air force soldier commits suicide in Udhampur

मुंगेर: बिहार (Bihar) के मुंगेर (Munger) जिले के बरियारपुर थाना क्षेत्र (Bariyarpur Police Station Area) में मानसिक अवसाद से ग्रसित (Suffering from Mental Depression) एक होमगार्ड जवान (Homeguard Jawan) के अंधाधुंध गोलीबारी (Indiscriminate Firing) करने को नक्सली हमला समझकर पुलिस द्वारा की गयी जवाबी कार्रवाई में गोली लगने से जवान की मौत हो गयी। 

पुलिस अधीक्षक मानवेंद्र सिंह ढिल्लो (Manvendra Singh Dhillon) ने मंगलवार को बताया कि यह घटना बरियारपुर थाना क्षेत्र में एक चौकी पर हुई जहां सोमवार मध्यरात्रि के बाद अंधाधुंध गोलियों की आवाज सुनी गयी। 

उन्होंने कहा, ‘‘हमें संबंधित थाना द्वारा बताया गया कि एक संदिग्ध नक्सली हमला हुआ है और अंधेरे में गोलियां चलाई जा रही हैं।” ढिल्लन ने कहा, ‘‘हम अतिरिक्त बल के साथ घने जंगलों से घिरे घटना स्थल पर पहुंचे।” 

उन्होंने कहा, ‘‘हमारी ओर से जवाबी गोलीबारी की गयी। इसी बीच हमें पता चला कि यह होमगार्ड जवान मोहम्मद जाहिद (52) था जो गोली चला रहा था। जो लोग उसे अच्छी तरह से जानते थे, उन्होंने बताया कि वह कुछ समय से मानसिक तनाव में था और अजीब व्यवहार कर रहा था।” 

ढिल्लन ने कहा, ‘‘ज़ाहिद की ओर से गोलीबारी बंद होने पर उनका खून से लथपथ शव बिना छत वाले शौचालय में मिला जहां से वह हवा में गोलीबारी कर रहे थे।” उन्होंने कहा कि शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया और आगे की जांच जारी है। (एजेंसी)