पुलिस के विरोध में किसान संगठनों ने बुलाई बैठक, कोरोना नियमों की उड़ी धज्जियां

    हिसार: देश में एक तरफ कोरोना का कहर जारी है, वहीं दूसरी तरफ लोगों की लापरवाही लगातार जारी है। सोमवार को किसान संगठनों ने हिसार में पुलिस द्वारा किसानों पर किए गए लाठी चार्ज को लेकर बड़ी बैठक बुलाई थी। इस बैठक में सभी बड़े किसान नेता शामिल हुए, जिसमें भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत भी शामिल थे। बैठक के दौरान कोरोना को लेकर बनाए नियमों की जोरदार धज्जियां उड़ाई गई। न किसी ने मास्क पहना और न ही सामाजिक दुरी का पालन किया गया। 

    दरअसल, 16 मई को किसान संगठनों और पुलिस के बीच झड़प हो गई थी। जहां पुलिसकर्मियों ने प्रदर्शन कर रहे लोगों पर लाठी चार्ज किया था। इसी के विरोध में किसान संगठनों ने बड़ी बैठक बुलाई थी। इस बैठक में शामिल होने के लिए पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश से बड़े संख्या में किसान नेता और लोग पहुंचे थे। 

    न मास्क और न ही सामाजिक दूरी का पालन

    इस बैठक में हजारों की संख्या में पहुंचे थे। इस दौरान न लोगों ने मास्क लगाया हुआ था और न ही सामाजिक दुरी का पालन किया था। यहां तक की जिन नेताओं ने यह सभा बुलाई थी उन्होंने तक ने मास्क का उपयोग नहीं किया था।