गहलोत का केंद्र पर हमला, कहा- मोदी सरकार के बुने महंगाई के जाल से आम जनता त्रस्त

    जयपुर. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) ने शुक्रवार को कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi Government) द्वारा बुने गए महंगाई के जाल से आम आदमी बुरी तरह तंग आ चुका है। बढ़ती महंगाई के खिलाफ कांग्रेस के देशव्यापी धरना प्रदर्शन के तहत गहलोत ने यहां जारी एक बयान में कहा, “अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत कम होने के बावजूद पेट्रोल-डीजल की कीमत (Petrol-Diesel Price) लगातार बढ़ रही है। कई राज्यों में पेट्रोल का मूल्य 100 रुपये प्रति लीटर से अधिक हो गया है। एक तरफ आम आदमी कोरोना और आमदनी कम होने से परेशान है वहीं दूसरी ओर मोदी सरकार महंगाई से उसके लिए मुश्किल कर रही है।”

    उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क को लगातार कम कर रही है जिसमें राज्यों को हिस्सा मिलता था लेकिन विशेष उत्पाद शुल्क व अतिरिक्त उत्पाद शुल्क जिसमें राज्यों को हिस्सा नहीं मिलता, लगातार बढ़ाकर अपनी जेब भर रही है। केन्द्र सरकार की एक तिहाई कमाई पेट्रोल-डीजल के कर से ही हो रही है।

    उन्होंने कहा, “जब केन्द्र सरकार को पेट्रोल-डीजल पर कर कम करके आम आदमी को राहत देनी चाहिए थी तब इस साल के बजट में इन पर एक नया उपकर लगा दिया गया। इससे परिवहन पर खर्च बढ़ा, जिससे महंगाई बढ़ी। आम आदमी मोदी सरकार द्वारा बुने गए इस महंगाई के जाल से बुरी तरह तंग आ चुका है।”

    उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने पेट्रोल व डीजल के साथ साथ अन्य जरूरी चीजों के बढ़ते दाम के खिलाफ शुक्रवार को देश भर में प्रदर्शन किया। (एजेंसी)