Ashok Gehlot

जयपुर. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मौजूदा चुनावी दौर के बीच आयकर विभाग द्वारा बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी को नोटिस जारी किए जाने की आलोचना करते हुए शुक्रवार को कहा कि यह नोटिस भाजपा की ‘हताशा’ को दिखाता है।

मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट किया कि आयकर विभाग द्वारा बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी को आय के स्त्रोत के सत्यापन का नोटिस भाजपा की ‘हताशा’ को दिखाता है तथा यह (दिखाता है) कि भाजपा बिहार में अपना आधार खो रही है।

उन्होंने कहा, “वरना खासकर चुनाव के दौरान ही केन्द्रीय एजेंसियां क्यों सक्रिय होती हैं और वह भी विशेष रूप से कांग्रेस के खिलाफ?” गहलोत ने कहा, “क्या आयकर विभाग और अन्य केन्द्रीय एजेंसियां चुनाव के दौरान भाजपा कार्यालयों में छापा डालने का साहस करेंगी?”

एक अन्य ट्वीट में मुख्यमंत्री ने कहा है कि भारत सरकार को कोरोना वायरस संक्रमण के नि:शुल्क टीकाकरण की घोषणा सभी (नागरिकों) के लिए करनी चाहिए न कि केवल चुनावी वादे के तौर पर जैसा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हाल ही में पटना में घोषणा की।