Haryana: Legislative Speaker Corona infected, including Kam Khattar

चंडीगढ़. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने शनिवार को गुपकर घोषणापत्र गठबंधन (पीएजीडी) पर निशाना साधते हुए कांग्रेस पर “राष्ट्र विरोधी भाषा” में बात करने वालों के साथ खड़े होने का आरोप लगाया। खट्टर ने जम्मू कश्मीर में गुपकर घोषणा पत्र का ‘‘हिस्सा बनने” के लिए कांग्रेस की निंदा की।

उन्होंने कहा कि पीएजीडी का एजेंडा जम्मू कश्मीर में संविधान के अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को बनाये रखना है। कांग्रेस ने मंगलवार को कहा था कि वह गुपकर गठबंधन का हिस्सा नहीं है और लोकतांत्रिक तरीकों से भाजपा का चेहरा ‘‘उजागर” करने के लिए जम्मू कश्मीर में जिला विकास परिषद का चुनाव लड़ रही है।

खट्टर ने गठबंधन के कुछ नेताओं के खिलाफ भी अपना रोष व्यक्त किया जिन्होंने कथित तौर पर कहा था कि “अनुच्छेद 370 को चीन की मदद से बहाल किया जाएगा।” उन्होंने कहा, “इन सभी लोगों का एजेंडा अनुच्छेद 370 को बहाल करना है लेकिन इसकी अनुमति किसी भी स्थिति में नहीं दी जायेगी।”

मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के 70 वर्षों के बाद नरेन्द्र मोदी सरकार ने अनुच्छेद 370 को हटाने का एक बड़ा कदम उठाया। उन्होंने कहा, “जब से यह कदम उठाया गया है, कश्मीर घाटी में स्थिति सामान्य हो रही है।”

उन्होंने कहा, “दिल्ली में कांग्रेस के नेता हालांकि कह रहे हैं कि वे उनके (गुपकर गठबंधन) के साथ नहीं है। ये कृत्य उनके दोहरे मापदंड को उजागर कर रहे है।”

जिला विकास परिषद चुनावों पर खट्टर ने कहा, “अब चुनाव से पहले गुपकर गठबंधन के नेताओं द्वारा विभिन्न बयान दिए जा रहे हैं।” उन्होंने कहा, “लेकिन लोग समझदार हैं, वे इस गठबंधन को नकार देंगे।”